बदलते मौसम में कोरोना के ट्रेंड पर एक्सपर्ट की नजर

कोलकाताः कोरोना वायरस महामारी के बीच बढ़ते मामलों के साथ नए-नए लक्षण भी सामने आ रहे हैं। कोरोना से संक्रमित होने वाले हर व्यक्ति का अनुभव अलग-अलग है। वायरस के शुरुआती दिनों में माना जा रहा था कि यह सांस की बीमारी वालों को ज्यादा शिकार बना रहा है, हालांकि वास्तव में ऐसा नहीं नजर आया। यह लोगों के शरीर के कई अंगों को निशाना बनाता है। फेस्टिव सीजन में कोरोना वायरस के ट्रेंड को लेकर भी अब एक्सपर्ट नजर रख रहे हैं। हालांकि मौसम को लेकर किसी प्रकार की सटीक जानकारी अब तक किसी के पास नहीं है। इस पर सभी देशों में अध्ययन ही हो रहे हैं।
फेस्टिवल को समझदारी के साथ मनाएं

प्रख्यात चिकित्सक डॉ.राहुल जैन, इंटरनल मेडिसीन, बेल व्यू क्लिनिक ने कहा कि आने वाले दिनों में काली पूजा, दीपावली, छठ पूजा समेत कई त्यौहार हैं। ऐसे में हमें फेस्टिवल को समझदारी के साथ मनाना होगा। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। मॉस्क बाहर निकलने पर अवश्य पहनें। यदि आस-पास कोई बीमार हो तो भेदभाव न करके सहयोग का हाथ बढ़ाएं।
ट्रेंड पर कुछ कहना जल्दबाजी, सतर्कता ही उपाय

मेडिका सुपरस्पेशिलिटी अस्पतालके चेयरमैन डॉ. आलोक राय ने कहा कि कोरोना वायरस के ट्रेंड को लेकर कुछ कहना जल्दबाजी होगी। जरूरत है कि लोग जागरूक रहें। सर्दियों में वैसे भी फेफड़े से जुड़ी समस्या बढ़ जाती है। ऐसे में लोगों को जागरूक रहकर कोरोना वायरस से मुकाबला करने के लिए तैयार रहना होगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

टी-20 में ऑस्ट्रेलिया को कड़ी चुनौती देगा भारत, ऑस्ट्रेलिया में 12 साल से सीरीज नहीं हारी टीम इंडिया

कैनबरा : एक दिवसीय श्रृंखला में विकल्पों की कमी के कारण मिली हार के बाद भारतीय क्रिकेट टीम शुक्रवार से शुरू हो रही तीन मैचों आगे पढ़ें »

रेसलिंग वर्ल्ड कप में उतरेंगे भारत के 24 पहलवान

नयी दिल्ली : कोरोना के बीच सर्बिया के बेलग्रेड में 12 से 18 दिसंबर के बीच इंडिविजुअल रेसलिंग वर्ल्ड कप खेला जाएगा। इसमें दीपक पुनिया, आगे पढ़ें »

ऊपर