सज गया छठ बाजार मगर घाट को लेकर कन्फ्यूजन बरकरार

कोलकाता : 4 दिनों तक चलने वाले आस्था और विश्वास के महापर्व छठ पूजा की शुरुआत बुधवार को नहाय – खाय के साथ हो गयी। आज खरना के बाद कल यानी शुक्रवार को पहला अर्घ्य और शनिवार को दूसरा अर्घ्य होगा। ऐसे में महानगर में छठ के बाजार तो सज गये हैं, लेकिन अब भी छठव्रतियों में कन्फ्यूजन बरकरार है। इसका कारण है कोरोना। इस बार कोरोना काल के कारण हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट की ओर से छठ पूजा को लेकर कई तरह की पाबंदियां हैं। पैदल घाट तक नहीं जाने से लेकर केवल 2 लोगों के घाट तक जाने और अन्य कई तरह की पाबंदियां इस बार छठ पूजा पर हैं, ​जिस कारण छठव्रतियों में भी अब तक कन्फ्यूजन है कि वे घर पर पूजा करें या फिर घाट जाकर।

तैयार किये जा चुके हैं घाट, भीड़ पर रहेगी नजर
यूं तो राज्य प्रशासन की ओर से छठ घाटों को तैयार किया जा चुका है। घाटों की साफ – सफाई का काम भी कर लिया गया है, लेकिन कोरोना काल के कारण इस बार भीड़ पर पुलिस की विशेष नजर रहेगी। इस बात का पूरा ध्यान रखा जाएगा कि घाटों पर नियमों के बाहर भीड़ ना जमा हो।
बाजारों में बिक रहे हैं सूप व नारियल, घवद के दाम बढ़े
छठ पूजा के लिए बाजारों में सूप और ना​रियल की बिक्री होने लगी है। हालांकि इस बार अम्फान के बाद सप्लाई में दिक्कतों के कारण घवद के दाम कुछ बढ़ गये हैं। घवद की बिक्री कर रहे अब्दुल कलाम ने बताया कि ​जिलों से घवद की सप्लाई आती है, लेकिन अम्फान के कारण सप्लाई प्रभावित हुई है। ऐसे में घवद के दाम 20-25 रु. बढ़ गये हैं। इसी तरह सुरेश साव ने बताया कि नारियल का दाम भी प्रति पीस 10 रु. बढ़ा है। पश्चिम बंगाल का अधिकतर सामान नष्ट हो जाने के कारण आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु से नारियल मंगाये गये हैं, जिससे परिवहन खर्च अतिरिक्त लग गया है। हालांकि सूप के दाम में कुछ उतार-चढ़ाव नहीं आया है। संजय गुप्ता ने बताया कि एक सूप की कीमत हर बार की तरह इस बार भी लगभग 50 रु. के आस-पास है।
कुछ महिलाएं घाट पर तो कुछ छत पर करेंगी पूजा
इस बार कुछ महिलाएं घाट तो कुछ छत पर और तालाब के पास छठ पूजा करेंगी। उत्तरपाड़ा से छठ पूजा की खरीदारी करने बड़ाबाजार आयी रेणु सिंह ने कहा कि अभी तक ये तय नहीं कर पायी हूं कि घाट पर पूजा करना है या फिर छत पर। इसी तरह सांतरागाछी से आयी समिता चौधरी ने कहा कि इस बार पहली बार छत पर ही छठ पूजा करूंगी क्योंकि कोरोना काल है। बेलूड़ की सोनी महतो ने कहा कि हर बार राजबाड़ी के घाट पर छठ पूजा करती हूं, लेकिन सुना है कि इस बार घाट बंद रहेगा। 17 वर्षों में पहली बार घर के पास बने तालाब के निकट इस बार छठ पूजा करूंगी।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

टी-20 में ऑस्ट्रेलिया को कड़ी चुनौती देगा भारत, ऑस्ट्रेलिया में 12 साल से सीरीज नहीं हारी टीम इंडिया

कैनबरा : एक दिवसीय श्रृंखला में विकल्पों की कमी के कारण मिली हार के बाद भारतीय क्रिकेट टीम शुक्रवार से शुरू हो रही तीन मैचों आगे पढ़ें »

रेसलिंग वर्ल्ड कप में उतरेंगे भारत के 24 पहलवान

नयी दिल्ली : कोरोना के बीच सर्बिया के बेलग्रेड में 12 से 18 दिसंबर के बीच इंडिविजुअल रेसलिंग वर्ल्ड कप खेला जाएगा। इसमें दीपक पुनिया, आगे पढ़ें »

ऊपर