बैरकपुर में प्रशासनिक भवन के सामने ही संघर्ष, चली गोली, कई घायल

उम्मीदवारों के नामांकन के दौरान ही मचा बवाल
पुलिस ने लाठीचार्ज कर पाया नियंत्रण, बंदूक व गोलियों की खोल हुई बरामद
बैरकपुर : बैरकपुर प्रशासनिक भवन के सामने बुधवार को उम्मीदवारों की नामांकन प्रक्रिया को लेकर की गयी पुलिस की विशेष व्यवस्था के बीच ही जमकर संघर्ष की घटना घट गयी। यहां तक कि गोलियां भी चलीं जिसमें कई लोग घायल हो गये। परिस्थिति को संभालने के लिए रैफ व अतिरिक्त पुलिस बल को उतारा गया जिन्होंने लाठीचार्ज कर परिस्थिति पर काबू पाया। घटनास्थल से पुलिस ने एक बंदूक व गोलियों की खोल भी बरामद की। संघर्ष व उत्तेजना की घटना को केंद्र कर कुछ देर के लिए नामांकन की प्रक्रिया में व्यवधान भी आया हालांकि परिस्थिति के संभलते ही यह प्रक्रिया शुरू हो गयी। इस दिन नैहाटी के तृणमूल उम्मीदवार पार्थ भौमिक, बीजपुर के तृणमूल उम्मीदवार सुबोध अधिकारी, भाटपाड़ा के तृणमूल उम्मीदवार जीतेंद्र साव, बैरकपुर के तृणमूल उम्मीदवार राज चक्रवर्ती, खड़दह के तृणमूल उम्मीदवार काजल सिन्हा ने जहां नामांकन किया वहीं भाजपा उम्मीदवार शुभ्रांशु राय, बैरकपुर के भाजपा उम्मीदवार डॉ. चंद्रमणि शुक्ला, जगदल के उम्मीदवार अरिंदम भट्टाचार्य ने भी पर्चा भरा। बताया गया है कि एक ओर शुभ्रांशु राय की रैली व दूसरी ओर से तृणमूल उम्मीदवार राज चक्रवर्ती की रैली के बैरकपुर चिड़ियामोड़ पर आमने-सामने होने से ही इस संघर्ष की घटना का सूत्रपात हुआ। खेला होबे व जय श्रीराम की नारेबाजी से जहां कर्मियों के बीच विवाद शुरू हुआ वही आगे संघर्ष में बदल गया। दोनों पक्षों में देखते ही देखते संघर्ष छिड़ गया। मारपीट, पथराव के बीच ही लोगों ने गोलियां चलने की भी आवाज सुनी। पुलिस ने घटनास्थल से घायलों को निकालकर अस्पताल पहुंचाया। फैली उत्तेजना को देखते हुए सीपी अजय नंद भी वहां पहुंचे और परिस्थिति को नियंत्रित करने के लिए उन्हाेंने लाठीचार्ज का निर्देश दिया। पुलिस की निगरानी में प्रार्थियों को वहां से निकालने की व्यवस्था की गयी।
तृणमूल ने कहा – चुनाव आयोग में होगी शिकायत
जिला तृणमूल के सचिव व नैहाटी के तृणमूल प्रार्थी पार्थ भौमिक ने कहा कि सरकारी कार्यालय के सामने, गोलीबारी व प्रार्थियों के सामने ही मुठभेड़, संघर्ष की घटना निंदनीय है। इसकी शिकायत हम चुनाव आयोग में करेंगे। हमारी मांग है कि आयोग भाजपा के इशारे पर ना चलकर निष्पक्ष तौर पर बैरकपुर में चुनाव संपन्न करवाये। बैरकपुर में अशांति से आम जनता को परेशानी हो यह बिल्कुल अनुचित है। उन्होंने कहा कि नारे लगा रहे तृणमूल कर्मियों पर भाजपा की रैली से ही गोलीबारी की गयी थी जिसमें उनके समर्थक सिराज अली व तन्मय को गंभीर चोट पहुंची, वहीं और कई कर्मी घायल हो गये।
तृणमूल कर रही है बैरकपुर को अंशात करने की कोशिश : भाजपा
बैरकपुर के भाजपा संगठन अध्यक्ष रॉबिन भट्टाचार्य ने आरोप लगाया कि उम्मीदवारों के नामांकन के दौरान ही बैरकपुर प्रशासनिक भवन के सामने गोलीबारी की घटना ने उजागर किया है कि यहां की स्थिति को संभालना पुलिस के बूते के बाहर है। तृणमूल की रैली में शामिल होकर समाजविरोधी भीड़ में घुसे और उन्होंने इस दौरान अशांति मचायी। भाजपा कर्मियों को निशाना बनाया गया है।
दोनों राजनीतिक पार्टियों के समर्थकों में हुई झड़प : सीपी
घटनास्थल पर पहुंचे बैरकपुर कमिश्नरेट के सीपी अजय कुमार नंद ने कहा कि प्रशासनिक भवन के सामने इकट्ठे हुए दोनों ही राजनीतिक पार्टियों के समर्थकों में संघर्ष हुआ था ​जिसमें कुछ लोग घायल हुए हैं। पुलिस ने घटनास्थल से एक फायर आर्म्स बरामद किया है। उन लोगों को चिह्नित करने की कोशिश की जा रही है जिन्होंने यहां गोलियां चलायी थीं। कुछ लोगों को पकड़ा भी गया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

मास्क पहनने के लिए कहने पर महिला यात्री से बदसलूकी, एक गिरफ्तार

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : ऑटो में बिना मास्क के सफर कर रहे व्यक्ति को मास्क पहनने को कहना एख महिला को काफी महंगा पड़ा गया। आरोप आगे पढ़ें »

पुलिस कर्मियों में संक्रमण बढ़ते देख फिर चालू हो रहा क्वारंटाइन सेंटर

डुमुरजला पुलिस अकादमी और भवानीपुर पुलिस अस्पताल में चालू हुआ केन्द्र सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : महानगर में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। पिछले आगे पढ़ें »

ऊपर