मतगणना केंद्रों पर कोविड प्रोटोकॉल को लेकर आयोग सख्त

sanitizer

विशेष सैनिटाइजेशन के साथ ही काउंटिंग टेबल पर भी सोशल डिस्टेंसिंग
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः राज्य में छठवें चरण का मतदान 22 अप्रैल को है। वहीं इसके बाद दो चरण का चुनाव और बचेगा। ऐसे में चुनाव आयोग की ओर से अब मतगणना को लेकर भी विशेष उपाय किए जा रहे हैं। इस बार कोरोना वायरस के सेकेंड वेब के कारण मतगणना केंद्र पर काफी ठोस उपाय चुनाव आयोग कर रहा है। एडिशनल सीईओ संजय बसु ने कहा कि मतगणना केंद्रों पर कोविड प्रोटोकॉल को लेकर ठोस उपाय किए जा रहे हैं। इसके तहत मतगणना के पहले विशेष सैनिटाइजेशन अभियान चलाया जाएगा। इसके अलावा काउंटिंग टेबल पर भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाने के लिए विशेष उपाय किये जाएंगे।
बंगाल और देश भर में कोरोना पीड़ितों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। चुनाव आयोग ने इस स्थिति को देखते हुए कई प्रतिबंध मतगणना केंद्रों पर लगाए हैं। इस बार दो मई को होने वाली मतगणना में विशेष सावधानी बरती जा रही है।
मतदान कर्मचारियों की सुरक्षा को लेकर भी उपाय किए जा रहे हैं। संक्रमण के खतरे को देखते हुए चुनाव आयोग ने मतगणना के दिन विशेष एहतियाती कदम उठाए हैं। मतगणना केंद्र में टेबल की संख्या कम करके जगह बड़ी रखी जाएगी। कोविड प्रोटोकॉल के अनुसार 14-15 टेबल के बजाय 7 टेबल रखे जाएंगे। कमरे की लंबाई बड़ी होने पर ही अधिक टेबल रखने का निर्णय किया गया है। चुनाव आयोग के अनुसार, इससे संबंधित मतगणना केंद्रों पर जनसंख्या कम हो जाएगी। इसके अलावा, सुरक्षा बल दो दरवाजों पर तैनात होंगे।
यह बताया गया है कि इस बार पोस्टल बैलेट काउंटिंग के दौरान प्रत्येक टेबल पर एक राजनीतिक दल का एक नेता होगा। वहीं पोस्टल बैलेट और ईवीएम की गिनती होगी। इस विधानसभा में पोस्टल बैलेट काफी बहुत महत्वपूर्ण है। इसकी वजह है कि कई मतगणना केंद्रों पर पोस्टल बैलेट राजनीतिक दलों के भविष्य को निर्धारित कर सकता है।
त्रिस्तरीय सुरक्षा रहेगी
इस बार मतगणना केंद्रों पर त्रिस्तरीय सुरक्षा रहेगी। मतगणना केंद्र की परिधि के 100 मीटर के भीतर कोई वाहन प्रवेश नहीं कर सकेगा। इसके अलावा राज्य पुलिस और अर्द्धसैनिक बल सुरक्षा की कमान संभालेंगे। दूसरा स्तर परिसर गेट है। इसमें राज्य के सशस्त्र बल होंगे। तीसरा स्तर मतगणना कक्ष के ठीक बाहर है। केंद्रीय बल यहां के प्रभारी होंगे।
यह व्यवस्था भी
-काउंटिंग प्रतिनिधियों को मॉस्क व फेस शिल्ड दिया जाएगा
-मतगणना केंद्र पर सैनिटाइजेशन अभियान
-सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा जाएगा
-सैनिटाइजर की व्यवस्था

शेयर करें

मुख्य समाचार

कोरोना संक्रमित पिता के इलाज खर्च जुगाड़ नहीं कर पाया, बेटा कुएं में कूद कर मरा

सन्मार्ग संवाददाता दुर्गापुर : प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कोरोना संक्रमित पिता के इलाज का खर्च नहीं उठा पाने से तनावग्रस्त बेटे ने कुआं में कूदकर आत्महत्या आगे पढ़ें »

बेटे को हुआ कोरोना तो पिता ने रेलवे स्टेशन पर छोड़ा अकेला

कोलकाता : कोरोना महामारी की दूसरी लहर का कहर पूरे देश में अपने चरम पर है। इस खौफनाक महामारी का असर इंसान के स्वास्थ्य के आगे पढ़ें »

ऊपर