ममता का टोटका : चुनाव जीतने के लिए किया ‘लकी रूम’ से प्रेस कॉन्फ्रेंस

कोलकाता : कहते हैं कि सियासत में साम, दाम, दंड, भेद सब अपनाया जाता है। हर चुनावी मौसम में देखने को मिलता है कि नेता मंदिरों और अन्य धर्मस्थलों के दौरे से लेकर तमाम तरह के कर्मकांड अपनाते हैं। कई बार नेता तमाम तरह के अंधविश्वासों पर भी अमल करते दिखते हैं। ताजा मामला पश्चि‍म बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का है। पार्टी उम्मीदवारों के नाम की घोषणा करने के लिए उन्होंने एक ऐसे छोटे से कमरे को चुना जिसे वे अपने लिए लकी मानती हैं। यही नहीं, इस बार उम्मीदवारों के नाम की घोषणा करने के लिए उन्होंने इस छोटे कमरे के अलावा दिन भी शुक्रवार चुना। सूत्रों के मुताबिक, ममता बनर्जी इन दोनों चीजों को अपने लिए लकी मानती हैं।

दरअसल, 2011 और 2016 के चुनाव के लिए ममता बनर्जी ने इसी छोटे से कमरे में प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी और नतीजे उनके मुताबिक आए। लेकिन 2019 में उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस के लिए बड़ा हाल चुना था, जहां मीडियाकर्मियों को एकत्र होने में काफी सुविधा रहती है। शुक्रवार को तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवारों की घोषणा के लिए हो रही प्रेस कॉन्फ्रेंस के लिए मीडियाकर्मी यहां पहुंचे तो वे चौंक गए कि इतने छोटे कमरे को क्यों चुना गया?

सूत्राें के मुताबिक कमरे का साइज 10X10 होगा। प्रेस कॉन्फ्रेंस के लिए ये कमरा इतना छोटा था कि दस से 15 मिनट पत्रकारों को कमरे में दाखि‍ल होने और अपनी जगह बनाने में लग गए। इस सवाल का जवाब खोजने पर पार्टी सूत्रों के जरिये इसका राज खुला। सूत्रों के मुताबिक, ममता को लग रहा है कि शुक्रवार का दिन और ये छोटा कमरा उनके लिए लकी साबित होता ह। 2011 और 2016 के चुनाव के लिए ममता ने यहीं प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी और जबरदस्त जीत हासिल की थी। लेकिन 2019 के लोकसभा चुनाव में दूसरी जगह से प्रेस कॉन्फ्रेंस की और अच्छा रिजल्ट नहीं आया। इस चुनाव में बीजेपी को बंगाल में पहली बार 42 में 18 सीटें मिल गई थीं। अब देखना होगा कि ममता बनर्जी का लकी कमरा और लकी दिन चुनाव नतीजों पर कितना असर डाल पाता है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

ये सेक्सी बातें, जो बढ़ा देंगी यौन संबंध बनाने की इच्छा

कोलकाताः अगर आप अपने पार्टनर से सेक्स की बातें करते हैं तो वह उन बातों से उत्तेजित हो जाते हैं। इसी के साथ ही आपको आगे पढ़ें »

महाराष्ट्र में कोरोना से हाहाकार, 503 लोगों की मौत, 24 घंटे में 68,631 नए केस

मुंबई : महाराष्ट्र में कोरोना का संक्रमण डराने लगा है। यहां हर दिन रिकॉर्ड टूट रहे हैं। महाराष्ट्र में कोरोना की बेकाबू रफ्तार से बीते आगे पढ़ें »

ऊपर