सीएम ने उद्योगपतियों से निवेश पर की चर्चा

सीएम के साथ बैठक में उद्योगपतियों ने दिखाया उत्साह
बंगाल में कैसी होगी निवेश की संभावनाएं, हुई विस्तृत चर्चा
हर 3 महीने में होगी उद्योगपतियों के साथ बैठक
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : राज्य में उद्योग को लेकर आगे क्यह संभावनाएं है, उस पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का फोकस हमेशा ही रहता है। इस क्षेत्र में ममता हर बार खुद उद्योगपतियों से मिलती है और उन्हें अपने साथ होने का पूरा भरोसा दिलाती है। पिछला साल कोरोना महामारी में ही गुजर गया जिसकी वजह से बंगाल ग्लोबल बिजनेस समिट भी टालना पड़ा मगर उद्योगपतियों के साथ दीदी ने मुलाकात की और हमेशा की तरह आश्वासन दिया कि आप बंगाल के है बाहरी नहीं। दीदी को जवाब देते हुए मारवाड़ी समाज के उद्योगपतियों ने भी एक स्वर में कहा की दीदी हम आपके साथ है। बैठक को लेकर सीएम ने कहा कि हर 3 महीने में यह बैठक होगी ताकि इस क्षेत्र से जुड़ी समस्याओं का समय रहते निवारण किया जा सकें।
इन मुद्दों पर हुई चर्चा
विभागीय अधिकारी ने बताया कि बैठक में मुख्यमंत्री ने मुख्य 5 विषयों पर चर्चा की जिसे लेकर भविष्य में उद्योग को लेकर यहां क्या संभावनाएं हैं तथा कैसे निवेश सहज होगा, उस पर विस्तृत चर्चा की गयी।
बैठक में उद्योग नीति, ओएनजीसी द्वारा निवेश, डीप सी पोर्ट, इंडस्ट्रीयल पार्क और एग्रो इंडस्ट्री पर विस्तृत चर्चा की गयी, साथ ही कहा गया कि इस क्षेत्र में रोजगार के अच्छे अवसरों को बढ़ावा दिया जा सकता है।
सरकारी जमीन को लेकर भी बताया गया कि प्रक्रिया जारी है जिसमें मार्केट दर और सर्कल दर पर काम किया जा रहा है। ट्रेड लाइसेंस को लेकर बताया गया कि 31 मार्च से यह प्रक्रिया ऑनलाइन कर दी जाएगी जिसका फायदा उद्योग जगत को मिलेगा। कुल मिलाकर बंगाल में निवेश की क्या संभावनाएं हैं उस पर एक सकारात्मक बैठक की गयी।
हर्षवर्धन नेवटिया, उद्योगपति


कोविड 19 की वजह से कई दिनों से कोई बैठक नहीं हो पायी थी। यह अच्छा मौका था, सीएम ममता बनर्जी ने सभी को आश्वासन दिया है कि किसी भी तरह की परेशानी होने पर संबंधित विभाग से संपर्क करें। हर समस्या का समाधान किया जाएगा। काफी दिनों के बाद सीएम से एकसाथ मिलकर ऐसी मुलाकात का मौका मिला क्योंकि महामारी का दौर चल रहा था। उन्होंने भी सभी को मौका दिया कि सभी अपनी समस्याएं खुलकर बता पाएं। कुल मिलाकर बैठक बहुत अच्छी रही।
कमल मित्तल, उद्योगपति


बहुत बढ़िया रही बैठक। अच्छी बात यह है कि मुख्यमंत्री ने सभी से उनकी समस्याएं पूछी और आश्वासन दिया कि वे हर समस्या को दूर करने की कोशिश करेंगी। यह कहना गलत नहीं है कि सीएम ने काफी सराहनीय कार्य किए है और आगे भी करेंगी। हमारी तरफ से भी आश्वासन दिया गया है कि आगे भी उनके साथ हमारा साथ बना रहेगा।
संजय बुधिया, उद्योगपति


राज्य में उद्योग और निवेश को लेकर भविष्य में क्या संभावनाएं है, उस पर सीएम ने विस्तृत चर्चा की। साथ ही बताया कि उद्योग क्षेत्र में कहां फोकस हो सकता है। बैठक काफी साकारात्मक रही क्योंकि हमारा एक साल कोरोना महामारी और अम्फान महाचक्रवात में ही बीत गया। अब समय उद्योग पर फोकस करने का है जिसे देखते हुए यह बैठक की गयी।
दिनेश बजाज


राज्य सरकार व मुख्यमंत्री ममता बनर्जी द्वारा यह बहुत ही अच्छी पहल है। बल्कि ऐसी पहल काफी पहले से ही होनी चाहिए थी। मुख्यमंत्री ने बंगाल में अब तक जो भी विकासकार्य किया है, वह उद्योग हो या दूसरा क्षेत्र उसमें कहीं कोई भेदभाव नहीं हुआ है। सभी को ख्याल में रखते हुए राज्य सरकार काम करती आयी है जो इस सरकार की अच्छी बात है। ऐसी बैठक होनी चाहिए तभी पता चल पाता है कि कहां परेशानी है और किसे दूर करना है।
बैठक में शामिल होने वाले प्रमुख उद्योगपति ये भी
मयंक जालान


संजय अग्रवाल


सरोज कुमार पोद्दार


ललित बेरीवाल


साल्टलेक लोकसंस्कृति के अध्यक्ष संदीप गर्ग

साल्टलेक लोकसंस्कृति के अध्यक्ष संदीप गर्ग ने लोक संस्कृति के संरक्षण और सर्वधन के लिए मुख्यमंत्री से एक अत्याधुनिक केन्द्र की मांग की। मुख्यमंत्री ने इस ओर जल्द कार्य करने का भारेसा दिया। मुख्यमंत्री के इस कदम का गर्ग समेत अन्य सभी ने स्वागत किया है। मुख्यमंत्री का यह कदम दर्शाता है वह राजस्थान या हरियाणा की संस्कृति के प्रति कितनी सजग हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अब मास्टर मोशाय के बेटे ने किया भाजपा का रुख

रवींद्रनाथ भट्टाचार्य ने कहा : बेटा चाहे तो जा सकता है, जरूरी नहीं बाप भी साथ जाये सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : तृणमूल कांग्रेस में अपनी धाक रखने आगे पढ़ें »

किचन का तवा ऐसे चमका सकता है किस्मत, जानें वास्तु के नियम

कोलकाता : वास्तु शास्त्र एक ऐसी विद्या है जिसके द्वारा घर में पॉजिटिव एनर्जी का संचार करके दोष दूर किए जा सकते हैं। वास्तु शास्त्र आगे पढ़ें »

ऊपर