प्लास्टिक मुक्त होगा चंदननगर, कैरीबैग और बोतलें होंगी रिसाइकिल

बोतलों से तैयार की जाएगी पाइप
सन्मार्ग संवाददाता
हुगली : प्लास्टिक के प्रदूषण से अब चंदननगर शहर को निजात मिलेगी। स्थानीय प्रशासन की ओर से शहर को प्लास्टिक मुक्त करने की खास तैयारी की गयी है। इसमें प्लास्टिक के कैरी बैग से लेकर पैकैजिंग के लिए इस्तेमाल होनी वाली प्लास्टिक, बोतलें सभी होंगी। चंदननगर नगर निगम के विभागीय अधिकारी ने बताया कि इन प्लास्टिक के कचरों को तीन भागों में बांटा गया है – कैरीबैग, सख्त प्लास्टिक की बोतल और दूध-दही आदि समानों को पैक करने में इस्तेमाल होने वाली नरम प्लास्टिक।
इस तरह होगी प्लास्टिक की रिसाइकलिंग
अधिकारी ने बताया कि यहां हर घर से कचरा इकट्ठा किया जाता है। उनमें से सभी प्लास्टिक को अलग-अलग श्रेणी के अनुसार किया जाएगा। कैरीबैग को कारखानों में दिया जाएगा जहां सीमेंट तैयार किया जाता है। वहां इन कैरीबैग्स का उपयोग कर उसे रिसाइकिल किया जाएगा। इसके अलावा चंदननगर केएमडीए पार्क के पीछे नगर​ निगम की तरफ से एक प्लांट तैयार किया जा रहा है जहां प्लास्टिक प्रक्रियाकरण किया जाएगा। यहां प्लास्टिक की बोतल और बाकी प्लास्टिक के पैकेट्स को रिसाइकिल किया जाएगा।
अधिकारी ने बताया कि यहां प्लास्टिक से पाइप तैयार की जाएगी। यहां प्लांट तैयार करने का काम चालू कर दिया गया है। निगम कमिश्नर स्वपन कुण्डू ने बताया कि कोरोना के कारण प्लांट तैयार होने में वक्त लग गया। दूसरी तरफ शहर को प्लास्टिक मुक्त करने के लिए तमाम कोशिशें की जा रही हैं।
कचरे की जानकारी के लिए ह्वाट्सऐप ग्रुप
शहर को साफ-सुथरा रखने के लिए क्लिन चंदननगर नाम का ह्वाट्सएेप ग्रुप तैयार किया गया है। शहर में अगर कहीं भी गंदगी दिखती है तो तुंरत इस ग्रुप में उसकी जानकारी दे दी जाएगी जहां निगम कर्मचारी पहुंच कर कचरे की सफाई करेंगे।
चालू होगा ऐप
शहरवासियों के लिए जल्द एेप भी इससे संबंधित तैयार करने की योजना है ताकि लोग सफाई से जुड़ी जानकारी ले सकें। कमिश्नर ने बताया कि हमारा लक्ष्य हर हाल में शहर को सुंदर और साफ-सुथरा रखने का है। इसमें यहां के लोगों की हमें मदद चाहिए।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

बड़ी खबरः उच्च माध्यमिक में सब पास

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : उच्च माध्यमिक की परीक्षा के नतीजों को लेकर राज्य में असंतोष जारी था। ऐसी परिस्थिति में असफल परीक्षार्थियों को पास कराने का आगे पढ़ें »

ऊपर