फर्जी टीकाकरण को लेकर एक्शन में केंद्र, 2 दिनों में बंगाल सरकार से मांगा जवाब

नई दिल्ली : फर्जी टीकाकरण के मामले में केंद्र सरकार एक्शन में नजर आ रही है और पश्चिम बंगाल सरकार से 2 दिन में राज्य में फर्जी टीकाकरण के मामले में जवाब मांगा है। इसके साथ ही केंद्र ने पश्चिम बंगाल सरकार से ऐसे लोगों पर सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं, जो फर्जी टीकाकरण में शामिल हैं। 

वैक्सीन फ्रॉड को लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव हरिकृष्ण द्विवेदी को चिट्ठी लिखी है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव ने पश्चिम बंगाल के चीफ सेक्रेटरी को फर्जी टीकाकरण पर तुरंत जवाब देने को कहा है। चिट्ठी में उन्होंने यह भी कहा है कि अगर जरुरत हो तो सख्त कार्रवाई करें। 

बंगाल विधान सभा में नेता प्रतिपक्ष और बीजेपी विधायक शुभेंदु अधिकारी ने पश्चिम बंगाल में फर्जी टीकाकरण को लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय शिकायत की थी।

वैक्सीन लगवाने के बाद नहीं मिल रहा सर्टिफिकेट

शुभेंदु अधिकारी ने कोलकाता के कस्बा इलाके को लेकर शिकायत थी, जिसमें कहा गया था कि फर्जी तरीके वैक्सीनेशन कैंप लगाया जा रहा है और जिनको टीका दिया जा रहा है, उन्हें कोविन प्लेटफॉर्म के जरिए कोई सर्टिफिकेट नहीं दिया जा रहा है। 

बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पश्चिम बंगाल में कोविड-19 टीकाकरण प्रतिशत सबसे कम होने का आरोप लगाया था और कहा था कि राज्य में फर्जी टीकाकरण शिविर भी लगाए जा रहे हैं। जेपी नड्डा ने आरोप लगाया कि तृणमूल कांग्रेस (TMC) सुप्रीमो ममता बनर्जी टीकाकरण अभियान को लेकर रोज-रोज अपने बयान बदल रही हैं और केन्द्र सरकार द्वारा राज्यों को नि:शुल्क टीका उपलब्ध कराए जाने के बावजूद राज्य सरकार इस प्रक्रिया में असफल हुई है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

एक दिन में कोविड से 10 की मौत, 662 नए मामले

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः राज्य में एक दिन में कोरोना वायरस के संक्रमण से 10 की मौत हो गई। इसके अलावा 662 नए मामले सामने आए हैं। आगे पढ़ें »

ऊपर