कैश क्वीन अर्पिता मुखर्जी के दूसरे फ्लैट के नोट गिनने में लगे 10 घंटे, टॉयलेट में गड़ा था खजाना

कोलकाताः प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बुधवार को शिक्षक भर्ती घोटाले में कोलकाता के आसपास तीन जगहों पर फिर छापेमारी की। इस दौरान अर्पिता मुखर्जी के बेलघरिया स्थित एक और फ्लैट से ईडी को करीब 29 करोड़ कैश (28.90 करोड़ रुपए) और 5 किलो सोना मिला। ईडी की टीम को ये पैसा गिनने में करीब 10 घंटे का समय लगा। चौंकाने वाली बात ये है कि अर्पिता ने ये पैसा फ्लैट के टॉयलेट में छिपा रखा था। दरअसल, ईडी ने शिक्षक भर्ती घोटाले से जुड़े मामले में हाल ही में पश्चिम बंगाल में ममता सरकार में मंत्री पार्थ चटर्जी को गिरफ्तार किया था। अर्पिता मुखर्जी पार्थ चटर्जी की करीबी हैं। 5 दिन पहले ही ईडी को अर्पिता के फ्लैट से 21 करोड़ कैश और तमाम कीमती सामान मिले थे। ईडी ने अर्पिता को 23 जुलाई को गिरफ्तार कर लिया था। उधर, ईडी की इस कार्रवाई के बाद से विपक्षी पार्टियां टीएमसी पर पार्थ चटर्जी को कैबिनेट से बाहर करने की मांग कर रही है। इतना ही नहीं शिक्षक भर्ती घोटाले में मनी ट्रेल की जांच कर रही ईडी ने पश्चिम बंगाल माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष टीएमसी विधायक माणिक भट्टाचार्य से भी पूछताछ की। ईडी ने बुधवार सुबह दक्षिण कोलकाता के राजडांगा और बेलघरिया में कई ठिकानों पर छापे मारे, ये प्रॉपर्टियां कथित रुप से अर्पिता मुखर्जी की हैं। ईडी की पूछताछ में अर्पिता मुखर्जी ने इन संपत्तियों का खुलासा किया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

अगर घर में हो रही है पैसो की कमी तो 5 रुपए के …

कोलकाताः आजकल हर कोई चाहता है की वो कोई ऐसा काम करे जिसमे वो पलभर में मालामाल बन जाये। ऐसे में व्यक्ति हर संभव प्रयास आगे पढ़ें »

ऊपर