दूसरे चरण के चुनाव से पहले बुद्धदेव ने जारी किया ऑडियो संदेश

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : कल यानी गुरुवार काे राज्य में दूसरे चरण का चुनाव होने वाला है। इससे पहले मंगलवार को राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री बुद्धदेव भट्टाचार्य का ऑडियो मेसेज जारी हुआ है। ऑडियो मेसेज में बुद्धदेव भट्टाचार्यकह रहे हैं, ‘बंगाल का चुनाव शुरू हो गया है और इस राज्य की राजनीति के लिए यह एक विशेष समय है। हमने हमेशा कहा है कि कृषि हमारा आधार और उद्योग हमारा भविष्य है। वाममोर्चा के शासन में कृषि में हमें सफलता मिली और उद्योग का प्रसार होना शुरू हुआ था। वाममोर्चा के हारने के बाद तृणमूल ने राज्य भर में आतंक का माहौल बनाया। अर्थव्यवस्था में गिरावट हुई, कृषि में संकट आया और चीजों के दाम आसमान छूने लगे, ​औद्योगिक विकास पूरी तरह रुक गया। गत 10 वर्षों में उल्लेख योग्य एक भी उद्योग नहीं आया। सिंगुर और नंदीग्राम में श्मशान जैसी शांति है। शिक्षा और स्वास्थ्य व्यवस्था टूट चुके हैं, लोकतंत्र पर हमला हो रहा है। सत्ताधारी पार्टी, उनके कार्यकर्ता और समाज विरोधी एक जुट हो गये हैं। महिलाओं की सुरक्षा खतरे में है। ऐसी परिस्थिति नहीं चल सकती, युवा समाज का भविष्य आशाहीन, उद्योगहीन और हताशा में हैं। युवक राज्य छोड़कर नौकरी की तलाश में दूसरे जगहों पर जा रहे हैं। एक तरफ तृणमूल की डिक्टेटरशिप तो दूसरी ओर, भाजपा का आग्रासन, राज्य में आतंक का माहौल बना है। इस आतंक के बीच समझौते का माहौल भी बना है। माकपा और कांग्रेस ने इससे लड़ने के लिए एक साझा मंच बनाया है। युवा समाज उद्योग व शिक्षा चाहता है, समाज का विकास चाहता है। राज्य के युवा समाज की इसमें अहम भूमिका है, वे इस संग्राम में उद्योग चाहते हैं, शिक्षा चाहते हैं, समाज का विकसित मूल्य बोध चाहते हैं। धर्मनिरपेक्ष शक्ति की जीत होने पर नयी सरकार का गठन होगा जो संकटयुक्त लोकतंत्र की रक्षा करेगी। सांप्रदायिक एकता को आगे बढ़ायेगी और आम लोगों की मांगों को ध्यान में रखते हुए काम करेगी। मेरी अपील है कि पश्चिम बंगाल को खतरे से बचायें और लोकतांत्रिक धर्मनिरपेक्ष सरकार का गठन कर नया इतिहास बनायें।’

शेयर करें

मुख्य समाचार

कोरोना टीकाकरण को लेकर ममता बनर्जी ने पीएम मोदी को लिखी चिट्ठी, जानें- क्या कुछ कहा है?

कोलकाता: केंद्र सरकार ने 18 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों को कोरोना की वैक्सीन एक मई से लगाने की अनुमति दी है। सरकार ने आगे पढ़ें »

अब तक कोरोना वैक्सीन की 44 लाख से ज्यादा डोज बर्बाद, RTI से खुलासा

नई दिल्लीः देश में कोविड-19 वैक्सीन की कमी होने से वै​क्सीनेशन की रफ्तार धीमी पड़ गई है। सरकार ने उत्पादन बढ़ाने पर जोर दिया है। आगे पढ़ें »

ऊपर