बड़ी खबरः हट जायेगा बाबूघाट से बस स्टैण्ड!

परिवहन विभाग ने नोटिस जारी कर बस स्टैण्ड को सांतरागाछी ले जाने की हिदायत दी
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः बस स्टैंड को दो हफ्ते में बाबूघाट से हटाना है। परिवहन विभाग ने बस मालिकों को ऐसे निर्देश दिए हैं। इस बस स्टैंड को हटाने को लेकर लंबे समय से कोर्ट में मुकदमा चल रहा है। इस बार राज्य सरकार भी उस स्टैंड को हटाने का काम कर रही है। हालांकि राज्य के इस फैसले से बस मालिक नाराज हैं। बाबूघाट स्टैंड पर 4 रूटों के 100 से ज्यादा बस स्टैंड हैं, कई अंरर्राज्यीय बसें भी हैं। इस बस स्टैंड को लेकर लंबे समय से कई मामले सामने आ चुके हैं। बस स्टैंड की भीड़, धुआं, केमिकल का असर मैदान इलाके पर पड़ रहा है, ऐसे आरोप लगते रहे हैं, साथ ही शिकायतें भी सामने आई हैं। आरोप है कि इससे पर्यावरण प्रदूषित हो रहा है। आरोप है कि विक्टोरिया मेमोरियल प्रदूषण से प्रभावित हो रहा है। कोर्ट में भी बस स्टैंड हटाने के कई मामले हो चुके हैं। इस दिन परिवहन विभाग की ओर से एक नोटिस जारी किया गया है। इसमें कहा गया है कि अगले 14 दिनों के भीतर बस स्टैंड को बाबूघाट से हटाना होगा। बस स्टैंड को बाबूघाट की जगह सांतरागाछी शिफ्ट करना होगा। यहां बस स्टैंड काफी समय से बनकर तैयार है। बार-बार अनुरोध के बावजूद बस स्टैंड को स्थानांतरित नहीं किया जा सका है। इस बार फिर गाइडलाइंस जारी की गई है , इस बीच परिवहन विभाग के फैसले से बस मालिक नाराज हो गए हैं। उनके शब्दों में, ईंधन की कीमतें आसमान छू रही हैं। ऐसे में बस स्टैंड को सांतरागाछी ले जाने का मतलब बस को रखने के लिए लंबी दूरी तय करना है। इससे खर्चा बढ़ जाएगा। राज्य सरकार ने बस स्टैंड को स्वीकार करने का एक यथार्थवादी निर्णय लिया है। ज्ञात हो कि धर्मतल्ला और बाबूघाट में बस स्टैंड पर विवाद 2002 में शुरू हुआ था। धर्मतल्ला व बाबूघाट में बस स्टैंड होने के कारण भारी प्रदूषण फैल रहा है,यह शिकायत करते हुए पर्यावरण कार्यकर्ता सुभाष दत्ता ने हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर की थी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

लोगों को काम दिखाना होगा, डराना-धमकाना नहीं चलेगा – ममता

पंचायत चुनाव को लक्ष्य करके सीएम ने दिया निर्देश बारिश से पहले करना होगा पूरा काम झाड़ग्राम : लोगों को काम दिखाना होगा, उन्हें डराना-धमकाना नहीं चलेगा। आगे पढ़ें »

ऊपर