ब्रेकिंगः कोरोना की तीसरी लहर की चपेट में बंगाल!

  • दूसरे सप्ताह में संक्रमण के मामले चरम पर पहुंच सकते हैं

कोलकाताः स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार पश्चिम बंगाल और पूर्वी भारत का सबसे बड़ा महानगर कोलकाता कोविड-19 महामारी की तीसरी लहर की चपेट में है, जिसके फरवरी तक बने रहने की आशंका है और इस महीने के दूसरे सप्ताह में संक्रमण के मामले चरम पर पहुंच सकते हैं। उन्होंने इसके लिए बड़ी सभाओं और उत्सवों के लिए अनुमति देने में राज्य प्रशासन की ओर से दूरदर्शिता की कमी के साथ ही आम लोगों की आत्मसंतुष्टि को जिम्मेदार ठहराया। वरिष्ठ डॉक्टर अनिमा हलदर ने कहा, ‘यदि आप पिछले पांच दिनों का उछाल देखें, तो स्पष्ट है कि पश्चिम बंगाल तीसरी लहर की चपेट में है। नयी दिल्ली और मुंबई जैसे अन्य महानगरों में भी यह है। हमारे राज्य में, खासकर कोलकाता में, मामले 12 गुना बढ़ गए हैं। जांच के लिए आने वाला हर तीसरा व्यक्ति वायरस से संक्रमित मिल रहा है।’

अगले कुछ दिनों तक कोरोना संक्रमण बढ़ने की आशंका

बर्दवान मेडिकल कॉलेज के वरिष्ठ डॉक्टर डॉ संजीब बंदोपाध्याय ने कहा, ‘इस समय हम जो संक्रमण देख रहे हैं, वह उस भीड़ का परिणाम नहीं है जिसे हमने 24-25 दिसंबर को और और नए साल की पूर्व संध्या पर देखा था, उसका परिणाम अगले कुछ दिनों में आएगा।’ उन्होंने कहा, ‘पिछले कुछ हफ्तों की घटनाओं को देखते हुए, ऐसा लगता है कि ग्राफ बढ़ता रहेगा।’ उन्होंने हालांकि यह भी कहा कि यदि मौजूदा प्रतिबंध जारी रहे, तो संख्या में जल्दी ही कमी आ सकती है। उन्होंने कहा, ‘हमने पुलिसकर्मियों को लोगों से मास्क पहनने की अपील करते हुए देखा। यह चौंकाने वाला है। सख्त दृष्टिकोण हमें इससे बचा सकता था।’

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

इंडिया गेट की जगह अब नेशनल वॉर मेमोरियल में जलेगी अमर जवान ज्योति

आज किया जाएगा लौ को शिफ्ट, 50 साल पुरानी परंपरा में बदलाव नई दिल्ली : देश की राजधानी दिल्ली में 50 साल से इंडिया गेट की आगे पढ़ें »

ऊपर