हिंसा के शिकार हुए भाजपा कर्मी ने आखिरकार दम तोड़ा

बारासात निवासी कर्मी पर हुआ था हमला
घटना को लेकर इलाके में फैला तनाव
बारासात : चुनाव के बाद की हिंसा का शिकार हुए बारासात अंचल के भाजपा कर्मी मोहम्मद अली ने 48 दिनों तक मौत से लड़ने के बाद शुक्रवार को हार मान ली। मोहम्मद की मौत को लेकर इलाके में एक बार फिर तनाव फैल गया है। बताया गया है कि बारासात पालिका के 7 नंबर वार्ड का निवासी भाजपा कर्मी मोहम्मद अली चुनाव के बाद मिल रही धमकियों के कारण घर छोड़कर रह रहा था। आरोप है कि पुलिस प्रशासन के अगुवाई में 12 जून को उसकी घर वापसी करवायी गयी थी मगर उसके दूसरे दिन ही 13 जून को कुछ समाजविरोधियों ने मोहम्मद अली के घर में घुसकर तोड़फोड़ करते हुए उसे बेधड़क पीटा। भारी चीज से मारकर उसका सिर फोड़ दिया। इससे उसे अंदरुनी रक्तस्त्राव हो रहा था जिसको लेकर पहले उसे बारासात जिला अस्पताल और फिर एक निजी अस्पताल में रेफर किया गया था। वहां से पुनः उसकी बेहतर चिकित्सा के लिए बाद में उसे कोलकाता के एसएसकेएम अस्पताल में रेफर किया गया जहां इलाज चलने के दौरान ही शुक्रवार की सुबह उसने दम तोड़ दिया। बारासात पुलिस पहले ही इस मामले में 2 अभियुक्तों को गिरफ्तार कर चुकी है जो जेल हिरासत में भेज दिये गये हैं। वहीं 48 दिनों की लड़ाई के बाद मोहम्मद की मौत को लेकर अंचल भाजपा कर्मियों में भारी रोष देखा जा रहा है। इस दिन मोहम्मद अली का शव उसके घर पहुंचने के साथ ही भाजपा जिला नेतृत्व ने उसके घर पहुंचकर मृतक के परिवारवालों से मुलाकार की और उन्हें ढांढस बंधाया। उन्होंने आरोप लगाया कि तृणमूल सरकार के तहत कानून की उपेक्षा करते हुए भाजपा कर्मियों के साथ हिंसा की जा रही है। उनकी हत्याएं हो रही हैं। वहीं मृतक के परिवारवालों ने अभियुक्तों को कड़ी सजा दिये जाने की मांग की है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

सियालदह तक मेट्रो की सौगात नए साल में

सियालदह तक मेट्रो शुरू करने की कवायद में जुटा प्रबंधन सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः ईस्ट वेस्ट मेट्रो कॉरिडोर के तहत कोलकाता मेट्रो रेलवे कॉरपोरेशन (केएमआरसीएल) ने सियालदह मेट्रो आगे पढ़ें »

ऊपर