ममता के भतीजे को थप्पड़ मारने वाले भाजपा नेता की मौत

परिवार ने हत्या का लगाया आरोप

कोलकाता : पश्चिम बंगाल में राजनीतिक हिंसा का एक और मामला सामने आया है। 2015 में एक कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी को थप्पड़ जड़ने वाले भाजपा नेता की मौत हो गई। भाजपा नेता देबाशीष आचार्य की गुरुवार को रहस्यमय ढंग से मौत हुई है। परिवारवालों ने हत्या का आरोप लगाया है। बताया जा रहा है कि कुछ अज्ञात लोगों ने उन्हें अस्पताल पहुंचाया और कुछ देर बाद उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, गंभीर रूप से घायल भाजपा नेता देवाशीष आचार्य को मिदनापुर के तमलुक जिला अस्पताल भर्ती कराया गया। अस्पताल प्रबंधन के अनुसार, गुरुवार की सुबह कुछ अज्ञात लोगों ने घायल शख्स को अस्पताल में भर्ती कराया। थोड़ी देर बाद डॉक्टरों ने घायल व्यक्ति के बारे में लोगों से पूछताछ करने के लिए बुलाया तो पता चला कि भर्ती कराने वाले सभी लोग वहा से फरार हो गए। डॉक्टर के मुताबिक, भाजपा नेता की मौत दोपहर में हो चुकी थी। अस्पताल प्रबंधन ने इसकी जानकारी मृतक के परिजनों को दी। परिवार वाले जब अस्पताल पहुंचे तो तो उन्होंने दावा किया कि देवाशीष की हत्या की गई है।
इधर भाजपा नेताओं ने देवाशीष आचार्य की मौत पर सवाल उठाए हैं। नेताओं ने कहा कि टीएमएसी कार्यकर्ता लगातार भाजपा नेताओं को निशाना बना रहे हैं, लेकिन मुख्यमंत्री इस पर ध्यान नहीं दे रही हैं। पुलिस ने अपनी प्रारंभिक जांच में पाया कि देवाशीष आचार्य 16 जून की शाम अपने दो दोस्तों के साथ बाहर गए थे। वह चाय की दुकान पर भी रुके, लेकिन उसके बाद वहां से अचानक गायब हो गए। फिलहाल अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।
2015 में अभिषेक बनर्जी को जड़ा था थप्पड़
गौरतलब है कि देबाशीष आचार्य 2015 में एक राजनीतिक कार्यक्रम में ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी को भरी जनसभा में थप्पड़ मारा था। हालांकि, इसके बाद टीएमसी समर्थकों ने उनकी खूब पिटाई की थी। पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया था, लेकिन अभिषेक बनर्जी के दखल पर उन्हें रिहा कर दिया गया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

घर में जरूर लगाएं इन 7 में से कोई एक मूर्ति, बहुत फायदा होगा

कोलकाताः आजकल घरों में देखने को मिलता है कि लोग सजावट के लिए मूर्तियां रखते हैं। ये मूर्तियां मैटल की हो सकती हैं, कांच की आगे पढ़ें »

ऊपर