बैरकपुर अंचल में चारों विधायकों पर ही भाजपा ने जताया भरोसा, बनाया उम्मीदवार

चंद्रमणि शुक्ला, फाल्गुनी पात्रा, राजू बनर्जी के कार्यों को देखकर पार्टी ने दिया मौका
बारासात, बनगांव व बशीरहाट में प्रायः सभी उम्मीदवार नये
बैरकपुर : बैरकपुर लोकसभा क्षेत्र के चारों भाजपा विधायकों क्रमश: बीजुपर के विधायक शुभ्रांशु राय, नोआपाड़ा के विधायक सुनील सिंह, भाटपाड़ा के विधायक पवन सिंह, बैरकपुर के विधायक शीलभद्र दत्त पर भरोसा जताते हुए भाजपा नेतृत्व ने उन्हें पुनः चुनाव लड़ने का मौका दिया है। इनमें से बैरकपुर के विधायक शीलभद्र दत्त की विधानसभा सीट में बदलाव करते हुए उन्हें पार्टी ने खड़दह से खड़ा किया है, वहीं बैरकपुर सीट पर इस बार पार्टी ने प्रबल उम्मीदवार बताये जा रहे डॉ. चंद्रमणि शुक्ला को उम्मीदवार बनाया है। पार्टी सूत्रों से अनुसार बैरकपुर में भाजपा नेता मनीष शुक्ला की हत्या के बाद उनके ​पिता के राजनीति में आने के साथ ही भाजपा कर्मियों, मनीष के अनुयायियों का बड़ा समर्थन उन्हें मिल रहा था। इस प्रसिद्धि को ही पार्टी भुनाना चाहती है अतः बिना किसी तरह का चांस लिये डॉ. चंद्रमणि शुक्ला को ही पार्टी ने बैरकपुर सीट पर उम्मीदवार बनाया है। इस पर बैरकपुर के भाजपा उम्मीदवार चंद्रमणि शुक्ला ने कहा कि जिन राजनीतिक कारणों से उनके बेटे की हत्या हुई है वे बेटे के विधायक बनने के सपने को पूरा करने के लिए ही मैदान में उतरे हैं। वह बैरकपुर की जनता के लिए काम करना चाहता था और मैं उसका यह सपना यहां जीत हासिल कर पूरा करूँगा। दूसरी ओर विधानसभा बदलने के बाद भी विधायक व खड़दह के भाजपा उम्मीदवार शीलभद्र ने कहा कि हमारा संगठन इतना मजबूत है कि किस सीट से खड़े हैं उससे फर्क नहीं पड़ता। पार्टी ने शांतिपुर से भाजपा विधायक अरिंदम भट्टाचार्य को इस बार जगदल से टिकट दिया है। इसके पीछे दो कारण सामने आ रहे हैं। एक कारण शांतिपुर में उनके विरुद्ध एक गुट का प्रतिवाद बताया जा रहा है तो दूसरा कारण यह है कि अरिंदम जगदल के ही मूल निवासी हैं अतः पार्टी ने भूमिपुत्र को यहां का उम्मीदवार बनाया है। वहीं भाजपा ने पार्टी के पुराने और अंचल के वरिष्ठ नेताओं फाल्गुनी पात्रा, राजू बनर्जी को भी उम्मीदवार बनाकर भाजपा कार्यकर्ताओं की मांगों को पूरा किया है। नैहाटी विधानसभा सीट पर फाल्गुनी व कमरहट्टी सीट पर भूमिपुत्र राजू बनर्जी चुनाव लड़ेंगे जबकि पानीहाटी से कांग्रेस से भाजपा में आये लड़ाकू नेता सन्मय भट्टाचार्य को पार्टी ने तृणमूल उम्मीदवार व तृणमूल के मुख्य सचेतक के विरुद्ध खड़ा किया। इस अंचल में भी भाजपा ने एक स्टार कलाकार को चमक के तौर मैदान में उतारा है। बांग्ला फिल्म व टीवी जगत की प्रसिद्ध कलाकार सुश्री पर्णो मैत्र को भाजपा ने बारानगर से खड़ा किया है जबकि उत्तर दमदम सीट पर तृणमूल की विधायक डॉ. चंद्रिमा भट्टाचार्य के विपरीत अंचल की एक महिला कर्मी व डॉक्टर अर्चना मजुमदार को टिकट देकर भाजपा ने मैदान में उतारा है।
हाबरा में राहुल करेंगे ज्योतिप्रिय से मुकाबला, बारासात में संगठन अध्यक्ष सहित कई नये चेहरे
बारासात अंचल में जिला तृणमूल अध्यक्ष व राज्य के मंत्री ज्योतिप्रिय मल्लिक के विपरीत पार्टी ने पूर्व अध्यक्ष व भाजपा के वरिष्ठ नेता राहुल सिन्हा को टिकट देकर मुकाबले में उतारा है। राहुल सिन्हा का दावा है ​कि पार्टी ने जो मौका दिया है उस पर वे अपना पूरा जोर लगा देंगे। वहीं बारासात के भाजपा संगठन अध्यक्ष शंकर चटर्जी को टिकट देकर पार्टी ने उन पर विश्वास जताया है। वहीं आमडांगा से नये चेहरे जयदेव मान्ना,अशोकनगर से तनुजा चक्रवर्ती, हाड़वा से राजेंद्र साहा, देगंगा से पार्टी की महिला कार्यकर्ता दीपिका चटर्जी, मध्यमग्राम से राजश्री राजवंशी सहित कइयों को टिकट दिया है। तृणमूल से भाजपा में शामिल हुए बशीरहाट दक्षिण के विधायक दिपेंदु विश्वास को पार्टी परिवर्तन के बाद भी निराशा हाथ लगी है और उन्हें पार्टी ने टिकट नहीं दिया। बशीरहाट दक्षिण सीट पर तारकनाथ घोष को भाजपा ने उम्मीदवार बनाया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

वोटों का ध्रुवीकरण बिगाड़ सकता है श्रीरामपुर-चांपदानी का समीकरण

वोटरों की शांति बयां कर रही है परिवर्तन की कहानी ! सन्मार्ग संवाददाता हुगली : चौथे चरण के चुनाव में हुगली की दो सीटें श्रीरामपुर और चांपदानी आगे पढ़ें »

प्रतिवाद, सत्ता और अस्तित्व की लड़ाई का अखाड़ा बना सिंगुर

सिंगुर के महासंग्राम में 'साइलेंट' वोटर्स ने दिया त्रिमुखी लड़ाई को अंजाम हर किसी को है अपनी जीत का भरोसा सन्मार्ग संवाददाता सिंगुर : बंगाल की सियासत का आगे पढ़ें »

ऊपर