कोलकाता में नागरिकता संशोधन विधेयक को लेकर बीजेपी-कांग्रेस में हाथापाई

कोलकाता : नागरिकता संशोधन विधेयक को लेकर कोलकाता की सड़कों पर गुरुवार को कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के समर्थक आपस में भिड़ गए। देश की संसद द्वारा विधेयक को मंजूरी दिए जाने पर जहां बीजेपी समर्थकों के बीज जश्न का माहौल था तो वहीं कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने बीजेपी के मुख्यालय के सामने विरोध मार्च निकाला। मतभेद के चलते दोनों गुटों की आपस में हाथापाई शुरू हो गई। पुलिस ने काफी जद्दोजहद के बाद इस झड़प को शांत किया।

बीजेपी मुख्यालय के बाहर विरोध प्रदर्शन कर रही थी कांग्रेस

विधेयक पास किए जाने की खुशी में देशभर में बीजेपी के कार्यकर्ता जश्न मना रहे हैं। कोलकाता में गुरुवार को बीजेपी के एक जश्न कार्यक्रम के दौरान कांग्रेस कार्यकर्ता बीजेपी मुख्यालय के सामने विरोध प्रदर्शन कर रहे थे जिसके बाद उनकी झड़प हो गई। इस झड़प को रोकने और माहौल को सामान्य बनाने के लिए कोलकाता पुलिस को कड़ी मेेेहनत करनी पड़ी।

विधेयक को बंगाल में नहीं लागू होने देंगी ममता

उल्लेखनीय है कि नागरिकता संशोधन विधेयक को संसद से मंजूरी मिल गई है। इस ‌विधेयक के पक्ष में बुधवार को राज्यसभा में 125 वोट और विरोध में 105 वोट डाले गए। इस विधेयक के तहत पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से 31 दिसंबर 2014 को या उसके पूर्व भारत आए अल्पसंख्यकों को भारत की नागरिकता के लिए कम से कम 6 वर्ष यहां रहना अनिवार्य होगा। हालांकि मुस्लिमों को इस ‌विधेयक के दायरे से बाहर रखा गया है। देश के पूर्वोत्तर राज्यों में इस विधेयक के विरोध में हिंसात्मक प्रदर्शन हो रहेे हैं। कांग्रेस समेत कई विपक्षी दल भी इस विधेयक के समर्थन में नहीं हैं। वहीं, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पहले ही बता चुकी हैं कि इस राज्य में वे नागरिकता संशोधन विधेयक और एनआरसी दोनों ही नहीं लागू होने देंगी। उनकी इस बात का बीजेपी द्वारा काफी पहले से विरोध किया जा रहा है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

वेस्टइंडीज जीत के करीब, इंग्लैंड ने दूसरी पारी में 313 रन बनाए

साउथैम्पटन : इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट में वेस्टइंडीज जीत की ओर है। मैच के पांचवें दिन टी ब्रेक तक मेहमान टीम ने 4 विकेट के आगे पढ़ें »

पगबाधा का फैसला सिर्फ और सिर्फ डीआरएस से हो : तेंदुलकर

नयी दिल्ली : महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने अंपायरों के फैसलों की समीक्षा प्रणाली (डीआरएस) से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) को ‘अंपायर्स कॉल’ को हटाने आगे पढ़ें »

ऊपर