बंगाल में भाजपा हिंदुत्व विरोधी, मां दुर्गा के लिए सम्मान नहीं – तृणमूल कांग्रेस

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : राज्य सरकार ने लगातार दूसरे साल प्रत्येक दुर्गा पूजा समिति को 50,000 रुपये का अनुदान देने की घोषणा की है। भाजपा इस घोषणा को आचार संहिता का उल्लंघन का आरोप लगाते हुए चुनाव आयोग के दरवाजे पर पहुंच गयी। अब इस पर तृणमूल और भाजपा आमने – सामने हैं। तृणमूल ने भाजपा पर जमकर निशाना साधा और बंगाल में भगवा दल काे हिंदुत्व विरोधी होने का आरोप लगाया है। तृणमूल ने कहा कि भाजपा मां दुर्गा का भी सम्मान नहीं करती है। तृणमूल के मंत्री और सांसदों ने इसे लेकर लगातार ट्वीट किये। वहीं तृणमूल नेताओं ने दिलीप घोष द्वारा मां दुर्गा को लेकर एक मंतव्य काे भी शेयर किया।
तृणमूल नेता मुकुल राय ने ट्वीट किया, हिंदुओं पर इस तरह का आघात क्या स्वीकर किया जा सकता है ? उन्होंने ट्वीट किया, पिछले साल भाजपा शासित यूपी सरकार ने बंगालियों को उनके दिल के सबसे करीब त्योहार मनाने से रोक दिया ! और अब इस साल बंगाल में पहले से ही इसी रास्ते पर चल रहा है। क्या हिंदुओं पर इस तरह का अत्याचार बर्दाश्त किया जाना चाहिए?
मंत्री पार्थ चटर्जी ने ट्वीट कर कहा कि पूरा देश स्तब्ध रह गया जब दिलीप घोष मां दुर्गा पर सवाल उठाने का साहस किये। यह एक कदम आगे बढ़कर साबित करता है कि वे वास्तव में कितने हिंदू विरोधी हैं ! बंगाल के लोगों को मां दुर्गा के आगमन की तैयारी से रोकना बेहद ही चौंकाने वाला बयान है। इसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।
मंत्री अरूप विश्वास ने ट्वीट किया कि राज्य सरकार अगर दुर्गापूजा कमेटियों को सहायता कर रही है तो इसमें भाजपा को क्या दिक्कतें हो रही हैं? भाजपा को शर्म आनी चाहिए, जो खुद को हिंदुत्व का अभिभावक समझती है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

सियालदह तक मेट्रो की सौगात नए साल में

सियालदह तक मेट्रो शुरू करने की कवायद में जुटा प्रबंधन सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः ईस्ट वेस्ट मेट्रो कॉरिडोर के तहत कोलकाता मेट्रो रेलवे कॉरपोरेशन (केएमआरसीएल) ने सियालदह मेट्रो आगे पढ़ें »

ऊपर