बड़ी खबरः तृणमूल बदल सकती है 35% उम्मीदवार

  • नये चेहरों को लेकर चर्चाएं तेज
  • बाबुल सुप्रियो को उतारा जा सकता है

सबिता राय
कोलकाता : पिछले काफी समय से केएमसी चुनाव की तारीख काे लेकर चल रही चर्चाओं पर गुरुवार को विराम लग गया। 19 दिसंबर को ही कोलकाता नगर निगम का चुनाव होगा। अब चर्चा इस बात पर तेज है कि तृणमूल अपनी प्रार्थी तालिका में क्या चमक देने वाली है। सूत्रों के मुताबिक करीब 35 % उम्मीदवारों को तृणमूल बदल सकती है। इसका मुख्य कारण यह बताया जा रहा है कि वयस्क तथा लंबी बीमारी से जूझ रहे लोगों को पार्टी मौका नहीं दे सकती है। ऐसे भी लोगों को मौका नहीं मिलेगा जिनके खिलाफ शिकायतें हैं।
तो बाबुल को मिलेगा मौका
आसनसोल से भाजपा सांसद रहे बाबुल सुप्रियो हाल में ही तृणमूल कांग्रेस में शामिल हुए हैं। ऐसी चर्चा थी कि विधानसभा की कई सीटों पर हुए उपचुनाव में तृणमूल कांग्रेस बाबुल सुप्रियो को उतार सकती है लेकिन ऐसा नहीं हुआ। अब चर्चा है कि केएमसी के चुनाव में पार्टी उन्हें प्रार्थी बना सकती है। पार्टी सूत्रों के मुताबिक बाबुल सुप्रियो को उत्तर कोलकाता के एक वार्ड से प्रार्थी बनाया जा सकता है।
विधायकों को मौका नहीं ?
तृणमूल कांग्रेस एक व्यक्ति एक पद की नीति पर अमल कर रही है। केएमसी चुनाव में भी यह लागू हो सकता है। जो विधायक पद पर हैं उन्हें सम्भवत: केएमसी चुनाव में मौका नहीं मिल सकता है। उनकी जगह पर तृणमूल किसी अन्य को मौका दे सकती है। ऐसे चार विधायक हैं जो पार्षद भी हैं। सम्भवत: उन्हें केएमसी चुनाव में नहीं उतारा जा सकता है।
कई मंत्रियों के परिवार के सदस्यों को मिल सकता है मौका
कई मंत्रियों के परिवार के सदस्यों को पार्टी मौका दे सकती है। ऐसे कई वरिष्ठ मंत्री हैं जिनके पुत्र या पुत्री को निकाय चुनाव में उतारा जा सकता है। उत्तर कोलकाता से भी एक मंत्री के परिवार के सदस्य को प्रार्थी बनाया जा सकता है। तृणमूल के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि पार्टी बेहद ही सोच समझकर किसी को भी मौका देगी। केवल किसी जनप्रतिनिधि के परिवार का सदस्य होना काफी नहीं, बल्कि जाना-माना चेहरा होना जरूरी है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

आज इस विधि से करें शिव पूजन, मिलेगी हर काम में सफलता

कोलकाताः हिंदू धर्म में सोमवार का दिन भगवान शिव को समर्पित माना गया है। बहुत से लोग सोमवार के दिन भगवान शिव की पूजा करते आगे पढ़ें »

ऊपर