मिनी भारत है भवानीपुर, यहीं से शुरू होगी दिल्ली की लड़ाई : ममता

कहा : निष्पक्ष चुनाव हुआ होता तो 30 सीट भी न जीत पाती भाजपा
6 महीने में विधायक बनना जरूरी, इसके बिना सीएम पद उचित नहीं
लोगों से अपील की, एक दिन एक वोट और 5 साल तक निश्चिंत
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : बारिश के दौरान भवानीपुर की जनता के बीच पहुंचीं ममता बनर्जी ने कहा कि भवानीपुर मिनी भारत है, दिल्ली की लड़ाई यहीं से शुरू होगी। ममता चक्रबेड़िया में आयोजित स्ट्रीट कॉर्नर को संबोधित कर रही थीं। उन्होंने कहा कि बी से भवानीपुर होता है और बी से भारत होता है। हमारी लड़ाई यहीं से शुरू होगी जिसमें हर जनता का साथ मुझे चाहिए। ममता बनर्जी ने लोगों से अपील की कि वे अपना कीमती वोट जाया न होने दें क्योंकि यह लोकतंत्र को बचाने के लिए अति आवश्यक है। खासकर ऐसे समय में जब देश को भाजपा से बचाना है। भवानीपुर को लेकर ममता ने कहा कि यहां सभी जाति और धर्म के लोग एक साथ रहते हैं। मैं भवानीपुर की आभारी हूं, उन्होंने मेरी मदद की।
चुनाव निष्पक्ष हुआ होता तो भाजपा को न मिलती 30 सीट
विधानसभा चुनाव का जिक्र करते हुए ममता ने कहा कि चुनाव के दौरान दिल्ली के समस्त नेता यहां आ बसे थे। राज्य की पुलिस का इधर-उधर तबादला कर दिया गया था। हमारे हाथ में चुप रहने के सिवाय कुछ नहीं था। यहां तक कि आयोग भी खामोश था। उस वक्त अगर चुनाव निष्पक्ष हुए होते तो संभव है भाजपा को 30 से ज्यादा सीट न मिलती।
एक दिन एक वोट, पांच साल निश्चिंत रहिए
वोट अपील करते हुए ममता ने सभी से कहा कि भवानीपुर में हर एक वोट महत्वपूर्ण है। एक दिन की बात है सभी अपना वोट दें उसके बाद पांच सालों तक निश्चिंत रहें। मैं मुख्यमंत्री रहूंगी तो आपकी सभी समस्या का निदान होगा। मेरी प्राथमिकता लोगों का हित है जो आगे भी रहेगी। उन्होंने कहा कि मैंने दक्षिण कोलकाता सीट से 6 बार चुनाव लड़ा है और आपने हर बार मुझे आशीर्वाद भी दिया। 2021 साल 2011 की पुनरावृत्ति है जहां मैंने उप-चुनाव लड़ा था।
विधायक के बिना सीएम बनना उचित नहीं
ममता ने कहा कि नंदीग्राम में एक पैर पर मैंने ह्वील चेयर पर बैठकर चुनाव प्रचार किया था। वहां की जनता ने मेरा पूरा साथ दिया। आगे जो होगा अदालत देखेगी। अब मुझे 6 महीने के भीतर विधायक बनना है। बगैर विधायक के मुख्यमंत्री बनना उचित नहीं है। अब जनता के हाथ में है, आप चाहेंगे तभी मैं मुख्यमंत्री बनूंगी।
बंगाल में हर धर्म का उत्सव होता है
भाजपा पर निशाना साधते हुए ममता ने कहा कि दुर्गापूजा को लेकर भाजपा हमेशा निशाना बनाती रही है। बंगाल में हर धर्म का सम्मान होता है। यहां सभी धर्म के उत्सव मनाए जाते हैं। मैं खुद हर जगह जाकर उत्सवों में शिरकत करती हूं क्योंकि मैं हर धर्म का सम्मान करती हूं। अब त्रिपुरा में 144 धारा लगायी गयी है, इसका मतलब है कि वहां दुर्गापूजा नहीं मनेगी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

त्रिपुरा में महिला सांसद पर हमला, अभिषेक ने कहा : गुंडाराज चल रहा

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : त्रिपुरा में तृणमूल की राज्यसभा महिला सांसद सुष्मिता देव पर हमला हुआ है। उनकी गाड़ी में जमकर तोड़फोड़ की गयी है। यह आगे पढ़ें »

ऊपर