बंगाल के नेताओं को पीके की सीख : नहीं चलेगा हाईफाई पोर्टफोलियो

सन्मार्ग संवाददाता,कोलकाता : राज्य में दीदी को तीसरी बार सत्ता की चाबी ​दिलाने के लिए स्ट्रैटेजी बना रहे चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर व उनकी टीम आईपैक के लिए बंगाल एक नया चैलेंज है,जिसे पूरा करने के लिए उनकी पूरी टीम फील्डवर्क में लग चुकी है। रणनीतिकार प्रशांत किशोर जिलास्तर पर नेताओं के साथ रिव्यू मीटिंग कर रहे  हैं। यह बैठक आये दिन कोलकाता स्थित कार्यालय में की जा रही है जहां जिला के नेताओं की क्लास लग रही है।

सादा जीवन उच्च विचार रखना है नेताओं को

सूत्रों की माने तो पीके नेताओं को जनता से जुड़ने का मंत्र तो दे ही रहे हैं साथ ही साथ सादा जीवन उच्च विचार कैसे रखना है यह भी बता रहे हैं। बता दें कि अलग-अलग ​जिलाओं के नेताओं को कोलकाता बुलाया जा रहा है। यहां आने वाले नेताओं का पूरा बायोडाटा पहले से ही टीम पीके के पास है तथा दीदी के बोलो कैंपेन में उनका प्रदर्शन कैसा है इसकी रिपोर्ट भी पीके साथ रखकर उनसे बात कर रहे हैं।

हाई-फाई पोर्टफोलियो नहीं चलेगा

बैठक में नेताओं को पीके ने साफ कहा है कि वे अपनी हाई-फाई पोर्टफोलियो को बदल कर सादगी से रहना शुरू करें। खासकर ऐसे नेता जो लोगों के बीच महज इसलिए चर्चा का विषय बने हुए है क्योंकि उनकी हाईफाई लाइफ स्टाइल अधिक दिख रही है। जिस सामान्य से नेता को जनता ने जीत दिलायी उनकी यह छवि किसी भी हाल में जनता पचा नहीं पा रही है, इसलिए नेता ज्यादा दिखावेपन पर ना जाएं।

टिकट के लिए चाटुकारिता नहीं
सूत्रों ने बताया कि पीके ने साफ लफ्जों में कहा है कि जो लोग दादा-दादा करके आगे-पीछे लगे रहते हैं उन्हें कोई लाभ नहीं मिलने वाला है। टिकट उन्हें ही मिलेगा जो काम करेगा, वह भी जनता के लिए। उल्लेखनीय है कि दीदी के बोलो कैंपेन लोगों से जमीनी स्तर पर जुड़ने के लिए ही चालू किया गया है। पीके का नेताओं से साफ कहना है कि 3 विधानसभा के उपचुनाव में जीत की हैक्ट्रिक भले मिली हो मगर इसका खुमार सिर पर नहीं चढ़ना चाहिए।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सीएए और एनआरसी को लेकर मेयर ने बोला हमला

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : मेयर और मंत्री फिरहाद हकीम ने सीएए और एनआरसी को लेकर एक बार फिर केंद्र सरकार पर हमला बोला। रविवार को रक्तदान आगे पढ़ें »

ईस्ट वेस्ट मेट्रोः इस महीने शुरु होने की उम्मीदें बढ़ीं

नए जीएम ने मेट्रो परियोजना का किया निरीक्षण सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः साल्टलेक स्टेडियम से साल्टलेक सेक्टर-5 तक मेट्रो परियोजना के शुरू होने की उम्मीदें एक बार फिर आगे पढ़ें »

ऊपर