बंगाल की दीवारों पर लिखा जा चुका है, दीदी आप जा रही हैं : मोदी

कहा : दीदी ने अपनी पराजय स्वीकार कर ली, क्या दूसरी सीट से लड़ेंगी चुनाव
2 मई को भाजपा आ रही है 200 सीटों के साथ
स्क्रू ढीला वाले बयान पर बोले, दीदी को हो क्या गया है ?
सन्मार्ग संवाददाता
जयनगर/उलूबेड़िया : 2 मई के बाद बंगाल में भाजपा की सरकार बन रही है, वह भी 200 से अधिक सीटों के साथ। पीएम नरेंद्र मोदी ने अपनी जीत का दावा करते हुए ममता बनर्जी को बड़ी चुनौती दी है। गुरुवार को तीसरे चरण के चुनाव प्रचार के लिए जयनगर और उलूबेड़िया में चुनावी सभा को संबोधित करने पहुंचे पीएम मोदी ने कहा कि बंगाल की दीवारों पर लिखा जा चुका है कि दीदी आप जा रही हैं। आपकी हार निश्चित है, यहां तक कि दीदी ने अपनी पराजय तक स्वीकार कर ली है। ममता पर तंज कसते हुए पीएम मोदी ने कहा कि अभी बाकी चरणों के चुनाव बाकी हैं, सुनने में आ रहा है कि दीदी किसी और सीट से चुनाव लड़ने की सोच रही हैं तो क्या दीदी आप दूसरी सीट से चुनाव लड़ेंगी ?
हार का डर है कि विपक्ष की शरण में गयीं ममता
मोदी ने ममता बनर्जी द्वारा सोनिया गांधी सहित अन्य गैर-भाजपा नेताओं को पत्र लिखे जाने का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा, ‘पहले चरण का मतदान होने के बाद ‘दीदी’ की बौखलाहट और बढ़ गई है। कल ही दीदी ने देश के कई नेताओं को संदेश भेजकर मदद की अपील की है। जो लोग दीदी की नजर में बाहरी हैं, टूरिस्ट हैं, जिन्हें वो कभी मिलने तक का समय नहीं देती थीं, अब उनसे समर्थन मांग रही हैं।’ जनता ने इशारा कर दिया है और दीदी को भी समझ जाना चाहिए कि बंगाल में परिवर्तन सिर्फ एक महीने दूर है। दीदी को हो क्या गया है ?
पीएम मोदी ने ममता बनर्जी द्वारा स्क्रू ढीला होने वाले बयान पर पलटवार करते हुए हैरानी जतायी और कहा कि समझ नहीं आ रहा आखिर दीदी को हो क्या गया है ? पीएम ने अपने बांग्लादेश दौरे के दौरान प्रसिद्ध जोशेरेश्वरी मंदिर जाने और वहां मतुआ समाज के आध्यात्मिक गुरु की पूजा अर्चना करने पर ममता बनर्जी द्वारा आपत्ति जताने पर भी प्रधानमंत्री ने हैरानी जताई। उन्होंने कहा, ‘ये देखकर भी दीदी का गुस्सा सांतवें आसमान पर पहुंच गया।’ उन्होंने लोगों से पूछा, ‘‘मां काली के मंदिर में जाना गलत है क्या? हरीचंद ठाकुर जी को प्रणाम करना गलत है क्या?’ उन्होंने कहा, ‘हम अपनी परंपरा पर हमेशा गर्व करने वाले लोग हैं।’
किसानों का हक छीना है कटमनी तृणमूल ने
पीएम मोदी ने किसानों का पक्ष रखते हुए कहा ​कि तृणमूल सरकार ने कटमनी को महत्व दिया तथा किसानों का हक छीना है। उन्होंने आश्वासन दिया कि 2 मई को भाजपा की सरकार बनते ही सबसे पहले किसानों को उनका अधिकारी दिया जाएगा। कोरोना काल में भाजपा सरकार ने मुफ्त चावल भेजा, तो उसमें कटमनी। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत पूरे देश में करोड़ों घर बने। बंगाल में केंद्र सरकार ने 30 लाख से ज्यादा घर गरीबों के लिए स्वीकृत किए हैं, लेकिन कटमनी के कारण यहां अनेक गरीबों के घर अधूरे पड़े हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

मोदी की सभा से लौट रहे कार्यकर्ताओं पर चली गोली, हुआ एसीड अटैक

सन्मार्ग संवाददाता नदिया : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की जनसभा में भाग लेकर शनिवार रात घर लौट रहे भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमला हुआ, जिसमें जख्मी हुए तीन आगे पढ़ें »

आईपीएल : करीबी मुकाबले में कोलकाता ने हैदराबाद को हराया

कोलकाता की हैदराबाद पर लगातार तीसरी जीत, मनीष-बेयरस्टो पर भारी पड़ी नीतीश-त्रिपाठी की पारी चेन्नई : चेन्नई के चेपक स्टेडियम में खेले गये आईपीएल के 14वें आगे पढ़ें »

ऊपर