बंगालः कारखाना में काम करने आये यूपी के मजदूर की अस्वाभाविक मौत

अत्यधिक शराब पीने के कारण हार्ट अटैक की दी गयी जानकारी
पुलिस ने शुरू की है इसकी छानबीन
नदियाः उत्तरप्रदेश के गाजियाबाद से शांतिपुर के फूड प्रोडक्ट कारखाने में काम करने आये मजदूर की अस्वाभाविक मौत को केंद्र कर शनिवार को खलबली मच गई। उसकी मौत पर कई सवाल उठे हैं। मौत की सच्चाई जानने के लिए शांतिपुर थाने की पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। शांतिपुर थाना अंतर्गत कंदखोला के एनएच-34 के किनारे फूड प्रोडक्ट कारखाना है जहां गेहूं से आटा तैयारकर पैकै​​जिंग की जाती है। गैर राज्य से काम करने आये मजदूरों के लिए कारखाने में ही कमरा है जहां दिन रात वे रहते हैं। गाजियाबाद का मजदूर अनिल साहनी (27) झारखंड के दो मजदूरों के साथ एक ही कमरे में रहता था। 28 दिन पहले यहां ड्यूटी ज्वाइन की थी। आरोप है कि शुक्रवार की रात वह अत्यधिक शराब पीकर लौटा। कारखाना संलग्न एनएच-34 के किनारे ढेर सारे अवैध शराब के अड्डे हैं जहां सहजता से शराब उपलब्ध हो जाती है। अनिल के कमरे में रहने वाले मजदूर कम समझदार एवं कम पढ़े लिखे हैं। उन्होंने बताया कि रात करीब 12 बजे नशे में धुत होकर लौटा ​अनिल बाथरूम का नल चलाकर उसके नीचे बैठ गया था और घंटों उसी अवस्था में रहा। अन्य मजदूरों ने उसे ले जाकर कमरे में सुला देने के लिए कहा। उस मुताबिक कमरे में साथ रहने वाले आदिवासी समुदाय के मजदूरों ने बाथरूम से ले जाकर उसे सुला दिया। रात 3 बजे अनिल ने पीने के लिए पानी मांगा, फिर पानी पीकर सो गया। शनिवार की सुबह काम पर जाने के लिए जगाने पर वह अचेत अवस्था में पड़ा रहा। अस्पताल ले जाने पर डाॅक्टरों ने उसे मृत बताया। प्राथमिक तौर पर अनुमान है कि अत्याधिक नशे की वजह से हार्ट अटैक के कारण उसकी मौत हुई है। अनिल के घरवालों को उसकी मौत की खबर दे दी गई है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

लोगों को काम दिखाना होगा, डराना-धमकाना नहीं चलेगा – ममता

पंचायत चुनाव को लक्ष्य करके सीएम ने दिया निर्देश बारिश से पहले करना होगा पूरा काम झाड़ग्राम : लोगों को काम दिखाना होगा, उन्हें डराना-धमकाना नहीं चलेगा। आगे पढ़ें »

ऊपर