बंगाल को है और आईएएस – आईपीएस की जरूरत, केंद्र को पत्र देंगे मुख्य सचिव

वेस्ट बंगाल पुलिस सर्विस व डब्ल्यूबीसीएस की संख्या बढ़ाने का निर्णय
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : राज्य में जरूरत के अनुसार आईएएस आईपीएस अधिकारियों की संख्या कम हैं। काफी समय से बंगाल के सामने यह समस्या है। सोमवार को नवान्न में हुई कैबिनेट की बैठक मेंराज्य में अधिकारियों के मुद्दे पर भी चर्चा हुई। राज्य में कई और आईएएस और आईपीएस अधिकारियों की जरूरत है। इस संबंध में मुख्य सचिव एच के द्विवेदी केंद्र सरकार को पत्र भेजेंगे। उद्याेग मंत्री पार्थ चटर्जी ने नवान्न में कहा कि आईएएस आईपीएस काे लेकर मुख्य सचिव से कहा गया है कि वे केंद्र को पत्र दें। काम पर असर नहीं हो इसके लिए वेस्ट बंगाल पुलिस सर्विस और डब्ल्यूबीसीएस की संख्या बढ़ाने का निर्णय लिया गया है। इस संबंध में मुख्य सचिव की अध्यक्षता में एक कमेटी का गठन किया गया है। मंत्री ने कहा कि हमारे यहां 23 जिला है। वहीं पास के राज्यों में जिलों की संख्या अधिक है। स्वभाविक रूप से और अधिक आईएएस आईपीएस अधिकारियों की आवश्यकता है। उन्होंने यह भी कहा कि बंगाल को आईएएस – आईपीएस की संख्या पर्याप्त में नहीं मिल रही है। इसके कारण ही इस कमेटी का गठन हुआ है। मंत्रिमंडल में फैसला लिया गया है कि वेस्ट बंगाल पुलिस सर्विस और डब्ल्यूबीसीएस इन दोनों क्षेत्रों में संख्या बढ़ाने के लिए यह कमेटी देखेगी। वहीं जिला बढ़ाने को लेकर पूछे गये प्रश्न पर मंत्री ने कहा कि पहले आईएएस – आईपीएस की संख्या बढ़े उसके बाद जिला बढ़ाने के विचार होगा। सबकुछ पाइपलाइन में है। मंत्री ने कहा कि यहां 42 लोकसभा है। जिलों को पुर्नगठन करने के लिए और आईएएस आईपीएस अधिकारियों की आवश्यकता होगी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

जाली नोट से बाइक खरीदने आया युवक हुआ गिरफ्तार

इंटरनेट से 2 हजार रुपये के नोटों का फोटो डाउनलोड कर कराया था प्रिंट ओएलएक्स पर स्पोर्ट्स बाइक का विज्ञापन देख अभियुक्त ने किया था संपर्क सन्मार्ग आगे पढ़ें »

ऊपर