ममता बनर्जी के मंत्रिमंडल में दिखेंगे कई नए चेहरे, सरकार गठन करने की कवायद शुरू

कोलकाता : पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में दमदार जीत के बाद टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी ने सरकार गठन करने की कवायद शुरू कर दी है। इसके साथ ही ममता बनर्जी की सरकार में मंत्रियों को लेकर भी कयास लगने शुरू हो गए हैं। पार्टी सूत्रों का कहना है कि मंत्रिमंडल में पुराने चेहरों के साथ-साथ नए चेहरों को भी मौका दिया जाएगा। बता दें कि ममता बनर्जी ने तपसिया स्थित पार्टी कार्यालय में पार्टी के नवनिर्वाचित विधायकों की अपराह्न तीन बजे बैठक बुलाई है। इस बैठक में नवनिर्वाचित विधायकों द्वारा अपने नेता का चुनाव किया जाएगा। इस बैठक में ही तय किया जाएगा कि ममता बनर्जी कब और कहां शपथ लेंगी। बता दें कि ममता बनर्जी ने पहले ही घोषणा की है कि वह बड़े स्तर पर शपथ समारोह नहीं करेंगी। वरन कोरोना संक्रमण के मद्देनजर छोटे सत्र पर शपथ समारोह होगा।
राज्यपाल को सौंपेगी नए मंत्रियों की सूची
बैठक के बाद शाम सात बजे राज्यपाल से मिलने राजभवन जाएंगी और राज्यपाल जगदीप धनखड़ से मुलाकात करेंगी। इस बैठक में ममता बनर्जी ने सरकार बनाने का दावा पेश करेंगी और इसके साथ ही मंत्रियों की सूची भी राज्यपाल को सौंपेंगी, जो उनके साथ मंत्रिमंडल की शपथ लेंगे। पार्टी सूत्रों का कहना है कि मंत्रियों में पुराने मंत्रियों पार्थ चटर्जी, अरुप विश्वास, फिरहाद हकीम, सुब्रत मुखर्जी, शोभनदेव चट्टोपाध्याय जैसे नाम शामिल रहेंगे, लेकिन इनमें से कुछ के विभाग बदल सकते हैं।
अमित मित्रा की जगह कौन बनेगा वित्त मंत्री ?
ममता बनर्जी अपने दो कार्यकाल में अमित मित्रा को वित्त मंत्री बनाया था, लेकिन इस चुनाव में अमित मित्रा को टिकट नहीं दिया गया था। इस कारण वित्त मंत्री को लेकर कयास लगाए जा रहे हैं कि वित्त मंत्री कौन होगा। बता दें कि साल 2011 में जीत के बाद टीएमसी के महासचिव पार्थ चटर्जी को वित्त मंत्री का दायित्व दिया गया था, लेकिन बाद अमित मित्रा को वित्त मंत्री का दायित्व देकर उन्हें शिक्षा विभाग का दायित्व दे दिया गया था।
नये चेहरों को मंत्रिमंडल में मिलेगी जगह
मंत्रिमंडल में शिबपुर से निर्वाचित पूर्व क्रिकेटर मनोज तिवारी को जगह मिल सकती है। उन्हें खेल और युवा राज्य मंत्री जैसा पद दिया जा सकता है। इसके साथ ही इस चुनाव में झाड़ग्राम, मुर्शिदाबाद और मालदा से अच्छे परिणाम मिले हैं। नये मंत्रिमंडल ने इन इलाके के नवनिर्वाचित विधायकों को जगह दी जा सकती है। बता दें कि पश्चिम बंगाल में 292 सीटों पर हुए विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस ने 213 सीटों पर जीत हासिल की है, जबकि 200 सीट पर जीत का दावा करने वाली बीजेपी को मात्र 77 सीटों से संतोष करना पड़ा है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सुबह-सुबह शराब की दुकान के बाहर लगी लंबी लाइन, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

कोलकाताः पश्चिम बंगाल में कोरोना संक्रमण के बढ़ते हुए मामले को देखते हुए रविवार सुबह से 15 दिवसीय लॉकडाउन सुबह से शुरू हुआ। पश्चिम बंगाल आगे पढ़ें »

भारत में जल्द मिलेगी एक डोज वाली रूसी वैक्सीन

हैदराबाद : भारत के आम नागरिकों को जल्द ही रूस की एक डोज वाली स्पुतनिक-वी वैक्सीन मिलना शुरू हो जाएगी। आज स्पूतनिक-वी वैक्सीन का दूसरी आगे पढ़ें »

ऊपर