विद्धान नहीं विवेकवान बनें : ममता

2024 का आमचुनाव अब निशाने पर
अब दिल्ली का घेराव करेंगी ममता, भाग मोदी भाग का लगा नारा
कहा : 2024 में मेजॉरिटी वोट भी नहीं मिलेगा भाजपा को
विकासबाबू को कहा, मैं फाइल खोलूं
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : 21 जुलाई की शहीद रैली से ममता बनर्जी ने भाजपा की केंद्र सरकार के खिलाफ हुंकार किया। इस बार 2024 के आम प्रचार के लिए कमर कसने की अपील की गयी। ममता ने भाजपा को निशाना बनाया तथा अगले आम चुनाव में लोगों से जनता के लिए काम करने वाली सरकार बनाने की अपील की। पीएम का नाम लिये बगैर ममता ने कहा कि अगर आप जनता के लिए काम कर रहे हैं तो आपको विद्धान नहीं विवेकवान बनना चाहिए। उन्होंने यह बात शहीद मंच से कई बार दोहराई। ममता यहीं नहीं रुकीं बल्कि भाजपा को चैलेंज दिया कि 2024 में उसे मेजॉरिटी वोट नहीं मिलेगा। ममता ने भाजपा को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर भाजपा ने ‘महाराष्ट्र की तरह बंगाल सरकार को गिराने की कोशिश की तो उसे मुंहतोड़ जवाब मिलेगा।’ मंच से भाग मोदी भाग और भाग भाजपा भाग के नारे भी लगे।
ममता ने केंद्र सरकार पर बंगाल के साथ पक्षपात करने का आरोप लगाया तथा कहा कि केंद्र लंबे समय से 100 दिन रोजगार योजना का फंड नहीं दे रहा है। राजनीति में भेदभाव हो सकता है लेकिन उसका असर राज्यों पर आने का क्या मतलब है। गुजरात, यूपी, एमपी के साथ तो ऐसा बर्ताव नहीं किया जाता है। ममता ने चेतावनी दी कि अगर केंद्र यह फंड जल्द नहीं देता है तो वह ट्रेन और ट्रक से दिल्ली जाकर घेराव करेंगी।
2024 में भाजपा को मेजॉरिटी वोट भी नहीं
ममता ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि जनता 2024 के लोकसभा चुनावों में उसे केंद्र की सत्ता से बाहर कर देगी। ममता ने देश के संस्थानों को बर्बाद करने का भी भाजपा पर आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि जिनकी भारत के स्वतंत्रता संघर्ष में कोई भूमिका नहीं थी, वे देश का इतिहास फिर से लिखने की कोशिश कर रहे हैं।
उन्होंने कहा, ‘‘भाजपा को 2024 में जनादेश के जरिये सत्ता से हटा दिया जाएगा। उसे पराजित किया जाएगा। मैं दृढ़तापूर्वक कहती हूं कि भाजपा को अकेले अपने दम पर बहुमत नहीं मिलेगा और जब ऐसा होगा तो अन्य दल अगली सरकार बनाने के लिए एकजुट हो जाएंगे।’ ममता ने कहा मेरा विश्वास है कि जब ऐसा होगा तब हमारी पार्टी सर्वाधिक सीट हासिल करके शीर्ष पर रहेगी। ममता ने लोगों से अपील की, ‘‘भाजपा की कैद से मुक्त हो जाइए, 2024 में जनता की सरकार लाइए।’’
नेताओं को कहा, पैसा वसूला तो सीधे जाएंगे हवालात
ममता ने तृणमूल के अपने नेताओं को आगाह करते हुए कहा कि अगर किसी के खिलाफ चंदा वसूली या रुपये मांगने की शिकायत मिलती है तो उसे सीधे पुलिस के पास लेकर जाएं। उन लोगों की जगह हवालात है। इतना ही नहीं जल्द ऐसी व्यवस्था की जाएगी जिसमें शिकायत डायरेक्ट मुझसे की जा सकेगी। उल्लेखनीय है कि कई छोटे नेता पार्टी के नाम पर लोगों को धमका कर पैसा मांगते है, जिसकी शिकायत शीर्ष नेतृत्व तक गयी है।
विकासबाबू को कहा, मैं फाइल खोलूं
ममता ने कोलकाता नगर निगम के पूर्व मेयर विकास रंजन को निशाने पर लिया तथा कहा कि वाम सरकार के वक्त क्या-क्या हुआ इसकी पोल खुलेगी तो बहुत कुछ सामने आयेगा। ममता ने कहा विकासबाबू मैं फाइल खुलवाऊंगी तो जन्म प्रमाणपत्र का घोटाला सामने आ जाएगा। उन्होंने आरोप लगाया कि उस वक्त जो पार्टी करते थे उनकी पत्नी को सरकार नौकरी देती थी। इस तरीके से नौकरी दी गयी और मुझे नौकरी देने से रोका गया। ममता ने कहा कि बंगाल में नौकरी दी जाएगी और मुझे कोई रोक नहीं पाएगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

ब्रेकिंग: मवेशी तस्करी मामले में सीबीआई आसनसोल…

कोलकाता: मवेशी तस्करी मामले में सीबीआई आसनसोल सीबीआई कोर्ट में पहला सप्लीमेंट्री चार्जशीट पेश करेगी। सूत्रों के मुताबिक चार्जशीट में सहगल हुसैन का नाम भी आगे पढ़ें »

ऊपर