चुनाव परिणाम आते ही बैरकपुर अंचल हुआ अशांत

भाटपाड़ा में भाजपा कर्मी की मां की पिटायी से हुई मौत
जगह-जगह भाजपा कर्मियों के घरों में हुई बमबारी, तोड़फोड़
बैरकपुर : रविवार को चुनाव परिणाम आने के साथ ही बैरकपुर शिल्पांचल में चुनाव के बाद की हिंसा से एक बार फिर पूरा अंचल मानो अशांत हो गया। भाटपाड़ा से लेकर पानीहाटी तक जगह-जगह बमबारी की घटनाएं सामने आयीं। भाटपाड़ा पालिका के 28 नंबर वार्ड के निवासी व जगदल के 171 नंबर बूथ के भाजपा अध्यक्ष कमल मंडल ने आरोप लगाया कि परिणाम आने के साथ ही तृणमूल आश्रित समाजविरोधियों ने उसके घर पर आकर हमला किया। पूरे घर को तहस-नहस कर डाला। उसे, उसकी पत्नी व मां शोभारानी मंडल का सिर फोड़ दिया। उसने बताया कि कुछ साथियों की मदद से वह मां को लेकर भाटपाड़ा स्टेट जनरल अस्पताल ले गया जहां से उन्हें कल्याणी जेएनएम अस्पताल में रेफर कर दिया गया जहां देर रात इलाज के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया। कमल का आरोप है कि पुलिस में शिकायत करने ने बाद भी अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। वहीं भाटपाड़ा थाना अंतर्गत केलाबागान इलाके में स्थित भाजपा के पार्टी कार्यालय में तोड़फोड़ करने के साथ ही वहां से 15 से 20 बम फेंके गये। इस बमबारी को केंद्र कर इलाके में उत्तेजना फैल गयी जिसे देखते हुए भारी संख्या में पुलिस बल ने वहां पहुंचकर परिस्थिति को नियंत्रित किया। घटनास्थल से पुलिस ने कई बम भी बरामद किये। दूसरी ओर केउटिया के पालबागान इलाके से पुलिस ने 2 बाल्टी बम बरामद किये। माना जा रहा था कि इलाके में अशांति फैलाने के लिए ही समाजविरोधियों ने वहां वह बम छिपा रखा था। जहां इस बमबारी व तनाव को लेकर बैरकपुर के भाजपा संगठन अध्यक्ष रॉबीन भट्टाचार्य ने तृणमूल पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि चुनाव परिणाम आने के साथ ही तृणमूल यहां निरंकुश होकर भाजपाइयों पर अत्याचार करवा रही है। वहीं तृणमूल नेताओं ने आरोप लगाया कि हिंसा व बमबारी की घटनाओं से तृणमूल का कुछ लेना-देना नहीं है। यह सब भाजपा के समाजविरोधियों की आपसी रंजिश का नतीजा है। वहीं बैरकपुर अंचल के पानीहाटी में भी बमबारी की घटना को केंद्र कर माहौल अशांत रहा। मिली जानकारी के अनुसार रविवार की देर रात पानीहाटी के घोला थाना अंतर्गत तेघड़िया विवेकानंदपल्ली निवासी व खड़दह मंडल-3 के भाजपा कर्मी विश्वनाथ धर के घर पर कुछ लोगों ने आकर हमला किया। उसके घर की खिड़की, दरवाजों को तोड़ डाला गया वहीं एक के बाद एक 5 से 6 बम भी मारे गये। विश्वनाथ के परिवारवालों को उन्होंने मार डालने की धमकी भी दी। यह पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई है जिसके फुटेज के साथ ही घोला थाने में शिकायत दर्ज करवायी है। उसका आरोप है कि तृणमूल नेता मयना ने उसके घर पर हमला करवाया है अतः उसे अविलंब गिरफ्तार करने की मांग वह करता है। दूसरी ओर उक्त तृणमूल नेता ने इस आरोपों से इनकार किया है। उसका आरोप है कि यह मामला भाजपा के आपसी द्वंद्व का है जो कि अब सामने आ रहा है। वहीं कमरहट्टी पालिका के 23 नंबर वार्ड 5 नंबर मातृपल्ली इलाके में भाजपा कर्मियों के साथ भी मारपीट करने का आरोप तृणमूल पर लगा है। स्थानीय भाजपा नेता गोविंद झा ने आरोप लगाया कि इलाके के तृणमूल आश्रित समाजविरोधी गुड्डू उन्हें और उनके कर्मियों की हत्या करने की धमकी दे रहे हैं। कई कर्मियों के साथ मारपीट की गयी है, उनके घरों में तोड़फोड़ की गयी है अतः इस स्थिति में पुलिस प्रशासन को अपनी जिम्मेदारी का निर्वाह करना होगा अन्यथा इस तबाही की जिम्मेदार प्रशासक ही होगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

विश्व टेस्ट चैंपियनशिप: पहली बार तटस्थ स्थल पर मैच खेलेगा भारत

नई दिल्ली : भारत और न्यूजीलैंड के बीच अगले महीने  विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) का फाइनल होगा। जब दोनों टीम रोज बाउल में उतरेगी तो आगे पढ़ें »

बांग्लादेश बनाम श्रीलंका : तेज गेंदगाज रुबेल और महमूद को नहीं मिली जगह

नई दिल्ली : बांग्लादेश और श्रीलंका के खिलाफ होने वाली वनडे सीरीज में तेज गेंदगाज रुबेल हुसैन और हसन महमूद को शामिल नहीं किया गया आगे पढ़ें »

ऊपर