बारासात: मां से कहा – दोपहर में खाना खायेगा मगर कुछ ही मिनटों में चुन लिया मौत का रास्ता

  • देगंगा में युवक की रहस्यमय मौत
  • लगातार फोन बजने की आवाज सुनकर कमरे में गयी तो पाया मृत

बारासात : न किसी तरह का मानसिक तनाव और न ही किसी से कोई अनबन, मां से कहा भी कि वह दोपहर में अच्छा खाना बनाये क्योंकि वह दोपहर में ही खाना खायेगा। बेटे के लिए जहां एक ओर वह खाना बनाने में जुट गयी तो वहीं बेटे ने उठा लिया घातक कदम। कमरे से लगातार मोबाइल फोन की आवाज सुनकर जब वह कमरे में गयी तो सब कुछ खत्म हो चुका था। आंखों के सामने 18 साल का बेटा अयन मुखर्जी फंदे से मृत झूल रहा था। यह घटना बुधवार की दोपहर देगंगा थाना अंतर्गत सानपुकुर कोड़ापाड़ा इलाके में घटी। मां के मुंह के निकली चीख सुनकर आसपास के लोग वहां पहुंचे और इसकी जानकारी पुलिस को दी। बताया गया है कि अयन उसी इलाके में एक आलमारी कारखाने में काम करता था। वह अपने माता-पिता की इकलौती संतान था। अयन ने ऐसा कदम क्यों उठाया इसको लेकर उसके अभिभावकों के पास कोई जानकारी नहीं थी। उनका कहना है कि बेटे ने कभी किसी भी परेशानी का जिक्र नहीं किया अतः वे खुद समझ नहीं पा रहे हैं कि सब कुछ सामान्य होने पर भी उसने आत्महत्या क्यों कर ली। वहीं घटना की छानबीन में जुटी पुलिस का प्राथमिक अनुमान है कि प्रेम संपर्क में आयी खटास के कारण ही संभवतः अयन ने ऐसा किया है हालांकि उसकी मौत के कारणों की सटीक जानकारी के लिए जांच-पड़ताल की जा रही है। पुलिस का कहना है कि उसके मोबाइल फोन के जरिये वे इस बात का पता लगा रहे हैं कि आखिरकार अयन की आखिरी बार किससे बात हुई​ जिसके बाद उसने ऐसा फैसला किया। पुलिस ने इस मामले में अस्वाभाविक मौत का मामला दर्ज किया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

पिता ने फेंका ख़राब मोबाइल तो बेटे ने कर ली आत्महत्या

कोलकाता : इस वक्त की बड़ी ये आ रही है कि ख़राब मोबाइल पिता द्वारा फेंके जाने के कारण बेटे ने की आत्महत्या कर ली। आगे पढ़ें »

ऊपर