बैंक मैनेजर और निजी फर्म के मालिक को मिली 5 साल की सजा

कोलकाता : अलीपुर में सीबीआई मामलों के स्पेशल जज की ओर से एक निजी बैंक की न्यू अलीपुर शाखा के तत्कालीन ब्रांच मैनेजर देवतोश चंदा को 57,000 रुपये जुर्माने के साथ 5 वर्ष की सजा सुनायी गयी है। उनके अलावा मेसर्स चटर्जी एक्सपोर्ट, लोअर रेंज के प्रोपराइटर इंद्रजीत चटर्जी को भी 51,000 रुपये के जुर्माने के साथ 5 साल की सजा दी गयी है। अभियुक्तों के खिलाफ सीबीआई ने 8 नवम्बर 2001 में मामला दायर किया था। आरोप है कि उक्त बैंक मैनेजर ने इंद्रजीत को किसी प्रकार के दस्तावेज की जांच किये बगैर 12 लाख रुपये का बोगस लोन दिलवाया था। इस कारण बैंक काे 12 लाख रु. का नुकसान झेलना पड़ा था। मामले की जांच के बाद गत 27 नवम्बर 2002 को अलीपुर के स्पेशल जज की कोर्ट में अभियुक्तों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की गयी थी। अब कोर्ट ने अभियुक्तों को दोषी मानते हुए उक्त सजा सुनायी है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

हुगली : डकैती के आरोप में दो गिरफ़्तार

हुगली : मगरा थाना पुलिस ने कुंतीघाट पालपाड़ा इलाके से डकैती के आरोप में दो बदमाशों को गिरफ़्तार किया है। शनिवार की सुबह 4 बजे आगे पढ़ें »

शादीशुदा होकर अफेयर चलाना पड़ेगा भारी, यहां हो रही है सजा देने की तैयारी

अब ड्रोन भी बनाएगी अडाणी की कंपनी

मैंगलोर यूनिवर्सिटी में हिजाब पहनकर आईं स्टूडेंट्स, क्लास में एंट्री करने से रोका

रेपिस्ट के घरवालों से ही समझौता कर रहे थे मां-बाप, दुखी बेटी ने दूसरे कमरे में लगा ली फांसी

राजकोट में पीएम मोदी की रैली

संगमनगरी की गलियों में तपकर गीतांजलि श्री ने जीता साहित्य जगत का सोना

ग्वालियर: सास ने खाना बनाने को कहा, नाराज बहू ने खा ली चूहे मारने की दवा

बीरभूम में दिल दहलाने वाली घटनाः 7 महीने से पति ने नहीं भेजा पैसा, पत्नी ने 3 बच्चों के साथ…

आर्यन खान केस की ‘जांच’ करने वाले समीर वानखेड़े पर लगे हैं ये 4 आरोप, देखें लिस्ट

ऊपर