मंदिर में तोड़फोड़ व लूट की साजिश में शामिल बांग्लादेशी को बीएसएफ ने बंगाल सीमा पर दबोचा

कोलकाता : सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) की 153वीं बटालियन के सतर्क जवानों ने एक बड़ी सफलता हासिल करते हुए बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास से भारत छोड़कर भागने की कोशिश कर रहे एक वांछित बांग्लादेशी युवक को गिरफ्तार किया है। उस पर तमिलनाडु के पेरमदुरई स्थित मंदिर में तोड़फोड़ व लूट की साजिश में शामिल होने का आरोप है और गिरफ्तारी के डर से वह वापस बांग्लादेश भाग रहा था। तमिलनाडु पुलिस को उसकी तलाश थी और इसके लिए बंगाल पुलिस व अन्य एजेंसियों को वहां की पुलिस द्वारा अलर्ट किया गया था। इसके बाद बीएसएफ के दक्षिण बंगाल फ्रंटियर मुख्यालय, कोलकाता ने भी अपनी जिम्मेदारी के क्षेत्र में सीमा पर जवानों को सतर्क कर दिया था। इसी दरम्यान राष्ट्रविरोधी गतिविधियों में शामिल यह अति वांछित अपराधी गुरुवार शाम में बीएसएफ के हत्थे चढ़ गया जब वह सीमा चौकी घोजाडांगा के क्षेत्र से बॉर्डर पार कर भागने की फिराक में था। आरोपित का नाम जहांगीर विश्वास (27) है। वह बांग्लादेश के सतखीरा जिले का रहने वाला है। 153वीं बटालियन बीएसएफ के कमांडेंट जवाहर सिंह नेगी ने बताया कि पूछताछ में आरोपित ने बताया है कि इस मामले में उसके तीन साथियों को चार-पांच दिन पहले तमिलनाडु पुलिस ने गिरफ्तार किया है। ये सभी बांग्लादेशी तमिलनाडु में कंस्ट्रक्शन साइट पर पिछले कई वर्षों से काम करते थे। तमिलनाडु पुलिस के आरोप के अनुसार इस बीच कुछ दिनों पहले जहांगीर व उसके साथियों ने पेरमदुरई के एक मंदिर में तोड़फोड़ व उसमें मौजूद बहुत सारे सोना- चांदी को लूटने की साजिश रची थी। इस बारे में पता चलने पर पुलिस ने उसके तीन साथियों को पकड़ा जबकि जहांगीर गिरफ्तारी के डर से भाग गया था। इसके बाद तमिलनाडु पुलिस ने उसे भगोड़ा घोषित कर उसकी गिरफ्तारी के लिए सभी एजेंसियों से मदद मांगी थी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

भाजपा की अपील : ‘बुर्का’ पहनकर आये मतदाताओं की हो पूरी जांच

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : प्रदेश भाजपा ने चुनाव आयोग से मांग की है कि बुर्का में वोट डालने वाले मतदाताओं के पहचान पत्र का मिलान किये आगे पढ़ें »

भवानीपुर विधानसभा चुनाव : हाई कोर्ट में निर्णायक सुनवायी आज

पितृ पक्ष में इन संकेतों से जानें पूर्वज खुश हैं या नहीं

पैसों की तंगी से बचने के लिए करें आटे के ये उपाय, होगी मां लक्ष्मी की कृपा

मिनी भारत है भवानीपुर, यहीं से शुरू होगी दिल्ली की लड़ाई : ममता

इस उम्र की लडकियां चाहती है बिना कंडोम के सेक्स करना

चाहूं तो 3 महीने में बंगाल भाजपा को खत्म कर दूं लेकिन ऐसा नहीं करूंगा – अभिषेक

भाजपा सोच भी नहीं सकती कि ऐसे बड़े नेता आना चाहते हैं तृणमूल में – फिरहाद

भाजपा नेता के शव के साथ प्रदेश अध्यक्ष पहुंचे कालीघाट, पुलिस के साथ धक्का-मुक्की

तृणमूल की सियासत का अगला मंच गोवा और मेघालय

ऊपर