हादसों को न्योता दे रही हैं महानगर की बदहाल सड़कें

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : महानगर की कई सड़कें अपनी बदहाली पर आंसू बहा रही हैं। अपनी बदहाली बयां करतीं ये सड़कें कई तरह के हादसाें को भी न्योता दे रही हैं। हर साल ही बारिश के पहले तक तो सड़कें ठीक-ठाक रहती हैं, लेकिन बारिश का मौसम आने के साथ ही सड़कों पर बड़े – बड़े गड्ढे बन जाते हैं और ये तस्वीर किसी एक दिन की नहीं बल्कि हर साल ही सड़कें इसी प्रकार बदहाल दशा में देखी जाती हैं। ना जाने किस तरह सड़कों की मरम्मत की जाती है कि एक बारिश में ही सड़कों से पिच उखड़ जाते हैं और जगह – जगह सड़कें टूट जाती हैं।
सबसे अधिक खतरा मोटर साइकिल सवारों को
टूटी सड़कों के कारण सबसे अधिक खतरा होता है तो मोटर साइकिल सवारों को। जरा भी ऊंच-नीच हुई कि गड्ढे में बाइक और सवार ने जरा भी नियंत्रण खोया ताे हादसों की आशंका काफी हद तक बढ़ जाती है। साल्टलेक से रोजाना कोलकाता बाइक से आने वाले विशाल सिंह ने कहा, ‘ना केवल कोलकाता बल्कि साल्टलेक में भी कई जगहों पर सड़कें टूट गयी हैं जिस कारण काफी संभलकर बाइक चलानी पड़ती है। जगह – जगह गड्ढों के कारण सड़क दुर्घटनाओं का खतरा बना ही रहता है, उस पर भी बारिश हो जाने पर गड्ढों में पानी भर जाता है जिससे मुसीबत और बढ़ जाती है।’
पैचिंग के कारण ऊंची – नीची हुई सड़कें, बढ़ा खतरा
सड़कों के गड्ढों को भरने के कारण कई जगहों पर पैचिंग का काम किया गया है, लेकिन इसने मुसीबतें और बढ़ा दी हैं। पैचिंग का काम कुछ इस तरह हुआ है कि सड़कें ऊंची-नीची हो गयी हैं जिससे खतरा अधिक बढ़ गया है। अचानक ब्रेक लगाने पर या फिर गाड़ी थोड़ी स्पीड में होने पर अधिक मुश्किल हो रही है।
कई सड़कों पर डाली गयी ईंटें, कुछ पर हुई पैचिंग
पातीपुकुर अंडरपास के निकट ही सड़कें पूरी तरह टूट चुकी हैं और ईंटे दिखायी दे रही हैं। वहीं कुछ स्थान ऐसे भी हैं जहां गड्ढों को ईंट के टुकड़ों से भरा गया है। इसी तरह शोभाबाजार में लाल मंदिर के निकट भी सड़कें पूरी तरह टूट चुकी हैं, यहां भी अंदर से ईंट दिखायी दे रही है। विवेकानंद रोड के गड्ढे को ईंटें बिछाकर भरने की कोशिश की गयी है तो वहीं आरजी कर ब्रिज पर पैचिंग के कारण सड़कें ऊंची -नीची हो गयी हैं।
क्या कहना है निगम का
कोलकाता नगर निगम के एमएमआईसी (सड़क) रतन दे ने सन्मार्ग को बताया, ‘मंगलवार को अपराह्न 3.30 बजे सड़क के मुद्दे पर निगम में एक बैठक होगी। इसके बाद ही इस संबंध में कुछ कह पाऊंगा।’
पिछले 10 दिनों में हुई सड़क दुर्घटनाएं
17 अगस्त : हेस्टिंग्स थाना के खिदिरपुर रोड के पास मोटर साइकिल सवार काे दूसरे ने मारा धक्का। पुलिस सूत्रों के अनुसार, गड्ढे के कारण मोटर साइकिल सवार को अचानक बाइक रोकनी पड़ी थी, ऐसे में पीछे वाली बाइक का धक्का उसे लग गया।
20 अगस्त : वेस्ट पोर्ट थाना के सीजीआर रोड के पास ब्रुकलिन मोड़ पर दो मोटर साइकिल सवारों के बीच टक्कर हुई थी। इस घटना में 4 लोग घायल हो गये थे।
22 अगस्त : प्रगति मैदान थाना इलाके के ई.एम. बाईपास पर एक वाहन ने मोटर साइकिल सवार को धक्का मार दिया। बताते चलें ​कि पूरे ईएम बाईपास पर सड़कें काफी खस्ताहाल में हैं।
22 अगस्त : चारू मार्केट थाना के प्रिंस अनवर शाह रोड पर एक कार ने मोटर साइकिल सवार को धक्का मारा।
23 अगस्त : एसपीपीएस थाना के रिमाउंट रोड पर आर्डिनेंस डिपो गेट के पास एलजीवी ने स्कूटर सवार को धक्का मार दिया।
23 अगस्त : मैदान थाना के स्ट्रैंड रोड पर एक निजी बस ने मोटर साइकिल सवार को धक्का मार दिया था।
25 अगस्त : साउथ पोर्ट के गार्डन रीच फ्लाईओवर पर मोटर साइकिल सवार नियंत्रण खोते हुए फ्लाईओवर के गार्ड वॉल से टकरा गया।
26 अगस्त : भवानीपुर के शरत बोस रोड व ए​ल्गिन रोड क्रासिंग पर निजी कार ने मोटर साइकिल सवार को धक्का मार दिया था।
26 अगस्त : ठाकुरपुकुर थाना के डायमण्ड हार्बर रोड पर एक कार ने मोटर साइकिल सवार को मारा था धक्का।
26 अगस्त : हेयर स्ट्रीट थाना के स्ट्रैंड रोड पर मोटर साइकिल सवार ने केएमसी के वैट क्लिनिंग वाहन को धक्का मार दिया।
27 अगस्त : करया थाना के अमीर अली एवेन्यू पर मोटर साइकिल सवार कैरेजवे में फिसल गया।
27 अगस्त : हेस्टिंग्स के विद्यासागर सेतू पर एक कार ने बाइक सवार को धक्का मारा था।
27 अगस्त : इकबालपुर के डायमण्ड हार्बर रोड पर ड्यूटी से घर लौटने के दौरान मोटर साइकिल सवार फिसलकर गिर गया।
27 अगस्त : फूलबागान के सीआईटी रोड पर मोटरसा​इकिल सवारों के बीच टक्कर हुई।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

शोभन का घर खरीदा वैशाखी ने, रत्ना को सम्मान से घर छोड़ने को कहा

रत्ना ने कहा, हिम्मत है तो निकाल के दिखाये, मरुंगी भी इसी घर में सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : केएमसी के पूर्व शोभन चटर्जी इन दिनों आर्थिक तंगी आगे पढ़ें »

ऊपर