जादवपुर विश्वविद्यालय में बाबुल सुप्रियो के साथ हुई हाथापाई , मौके पर पहुंचे राज्यपाल

Babul Supriyo

कोलकाता : पश्चिम बंगाल के जादवपुर विश्वविद्यालय में गुरुवार को छात्रों के एक समूह ने केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो का घेराव किया और उन्हें काले झंडे दिखाए। दरसअसल, बाबुल सुप्रियो अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) द्वारा आयोजित एक सेमिनार को संबोधित करने के लिए विश्वविद्यालय आए थे। इसी बीच वामपंथी झुकाव वाले संगठनों-आर्ट फैकल्टी स्टूडेंट्स यूनियन (एएफएसयू) और स्टूडेंट फेडरेशन ऑफ इंडिया (एएसएफआई) के सदस्यों ने शुरुआत में ‘बाबुल सुप्रियो वापस जाओ’ के नारे लगाते हुए करीब डेढ़ घंटे तक उनको कैंपस में प्रवेश करने से रोका। इसके बाद छात्रों ने उनके साथ धक्का-मुक्की की। घटना की सूचना मिलने के बाद राज्यपाल जगदीप धनखड़ मौके पर पहुंचे, लेकिन उन्हें भी छात्रों ने परिसर में प्रवेश नहीं करने दिया।

बोतल फेंकी गई और चश्मा तोड़ा गया

प्राप्त जानकारी के अनुसार परिसर में बाबुल सुप्रियो के विरोध के दौरान उनपर बोतल फेंकी गई और उनके चश्मे को भी तोड़ दिया गया। परिसर में मंत्री के विरोध के बाद कुलपति सुरंजन दास ने छात्रों को प्रदर्शन खत्म करने के लिए कहा लेकिन छात्र इसके लिए राजी नहीं हुए। इसके बाद राजभवन को भी इस पूरे मामले से अवगत कराया गया, जिसके बाद राज्यपाल जगदीप धनखड़ खुद यूनिवर्सिटी पहुंचे। आरोप है कि कुलपति ने मौके पर पहुंची पुलिस को परिसर में नहीं घुसने दिया। बाद में राज्यपाल किसी तरह परिसर में पहुंचे, जहां से वह सुप्रियो को अपने साथ लेकर वापस लौटने लगे। हालांकि इस दौरान भी गेट पर मौजूद छात्रों ने राज्यपाल और केंद्रीय मंत्री का जमकर विरोध किया।

मैं यहा राजनीति करने नहीं आया – सुप्रियो

बताया जा रहा है कि सुप्रियो कैंपस में ही रूके हैं, क्योंकि प्रदर्शनकारी छात्रों ने उनकी कार का रास्ता रोक दिया। वहीं भारी सुरक्षा के बीच सेमिनार में शिरकत करने वाले सुप्रियो ने कैंपस में संवाददाताओं से कहा कि मैं यहां राजनीति करने नहीं आया हूं। विश्वविद्यालय के कुछ छात्रों के व्यवहार से दुखी हूं, जिस तरह उन्होंने मेरा घेराव किया। उन्होंने मेरे बाल खींचे और मुझे धक्का दिया।

राज्यपाल की ओर से उचित कदम उठाने के निर्देश

पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनकड़ विश्वविद्यालय पहुंचे ताे छात्रों ने उनका भी घेराव किया। राज्यपाल के प्रेस सचिव ने कहा कि छात्रों के एक वर्ग ने इससे पहले केंद्रीय मंत्री सुप्रियो का घेराव किया। इस मामले को राज्यपाल ने गंभीरता से लिया। उन्होंने कहा कि राज्यपाल ने यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर से बात की है और उचित कदम उठाने को कहा। बता दें कि सुप्रियो पश्चिम बंगाल के आसनसोल से सांसद हैं। केंद्रीय मंत्री सुप्रियो ने लोकसभा चुनाव-2019 में आसनसोल संसदीय सीट से तृणमूल प्रत्याशी मुनमुन सेन को हराकर विजय हासिल किया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

momota

एनआरसी और कैब को थोपने नहीं देंगे : ममता

खड़गपुर : उपचुनाव में जीत के लिए खड़गपुर की जनता को धन्यवाद देने पहुंची मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दावा किया है कि एनआरसी और कैब आगे पढ़ें »

हावड़ा जूट मिल अनिश्चित समय के लिए बंद

हावड़ा : शिवपुर स्थित हावड़ा जूट मिल को अनिश्चित काल के लिए बंद कर दिया गया है। इस दिन सुबह मार्निंग शिफ्ट में काम करने आगे पढ़ें »

ऊपर