सावधान ! नकली नोट के शिकार आप भी बन सकते हैं

कोलकाता : सावधान ! आप भी हो सकते हैं नकली नोटों का शिकार। जी हां, यह बात सुनने में कुछ अजीब भले ही लग रही हो, लेकिन अब नकली नोटों का कारोबार केवल जिलों तक ही सीमित नहीं रह गया है बल्कि खास कोलकाता शहर में भी इसे फैलाने की को​शिश की जा रही है। वह भी एशिया के सबसे बड़े व्यावसायिक हब बड़ाबाजार में जहां रोजाना करोड़ों रुपये का कारोबार होता है। सन्मार्ग के पास कुछ ऐसी शिकायतें मिलीं कि कुछ लोगों को नकद की गड्डियों में नकली नोट मिले हैं। इसकी पड़ताल करने पर सन्मार्ग की टीम को भी ये नकली नोट मिला। इसमें सबसे बड़ी समस्या यह होती है कि नकली नोट मिलने के बाद लोग घबराकर ना तो बैंक में जाते हैं और ना ही थाने में इसकी शिकायत करते हैं बल्कि वे भी इसे कहीं ना कहीं ठिकाने लगाने की कोशिश में रहते हैं। इस कारण नकली नोटों का कारोबार पैर पसार रहा है।
फुटपाथ की दुकानों पर भी मिलने लगा नकली नोट
बड़ाबाजार में ना केवल बड़ी दुकानों बल्कि फुटपाथ की दुकानों पर भी नकली नोट का ​शिकार आप हाे सकते हैं। सन्मार्ग की टीम को भी ऐसा ही एक नकली नोट बड़ाबाजार की एक फुटपाथ की दुकान से मिला है, ऐसे में सतर्क रहने की आवश्यकता है।
500 रुपये के नकली नोटों पर हुआ था बड़ा खुलासा
भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की एनुअल रिपोर्ट में जाली नोटों को लेकर हाल में बड़ा खुलासा हुआ था। आरबीआई और अन्य बैंकों द्वारा पकड़े गए 5.45 करोड़ से ज्यादा के नकली नोट इस बात की तस्दीक करते हैं कि देश में जाली नोटों का कारोबार चलता रहा है। आरबीआई की रिपोर्ट के मुताबिक, वित्तीय वर्ष 2020-21 में 5.45 करोड़ रुपये से ज्यादा के नकली नोट पकड़े गए हैं। कुल 2,08,625 नकली नोट पकड़े गए हैं, जिनमें से 8107 नोट यानी करीब 4 फीसदी जाली नोट आरबीआई ने पकड़े हैं, जबकि अन्य बैंकों ने 2,00,518 नोट यानी करीब 96% जाली नोट पकड़े हैं।
कैसे करें नकली नाेट की पहचान
* 200 रुपये के असली नोट में सामने में मूल्य वर्ग में 200 के साथ आर-पार का मिलान करें।
* देवनागरी में भी 200 लिखा होना चाहिए।
* महात्मा गांधी की फोटो बीच में और इसके साथ ही दाहिनी ओर भी होनी चाहिए।
* माइक्रो लेटर्स सूक्ष्म अक्षरों में आरबीआई, भारत, इंडिया और 200 लिखा होना चाहिए।
* डिमेटेलाइज्ड सिक्योरिटी थ्रेड जिस पर भारत और आरबीआई लिखा होना चाहिए।
* नोट पर दायीं ओर अशोका पिलर एम्ब्लेम होना चाहिए।
* वॉटरमार्क होना चाहिए ।
* नंबर पैनल ऊपर बायीं तरफ और नीचे दायीं तरफ छोटे से बढ़ते आकार में लिखे होने चाहिए।
* रिवर्स नोट की पहचान के लिए नोट को तिरछा करने पर हरे रंग का धागा नीले रंग का दिखाई पड़ता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

घंटों मशक्कत के बाद कैद हुआ बाघ

दक्षिण 24 परगना : वन विभाग के कर्मियों ने काफी घंटों की मशक्कत के बाद धान के खेत से रॉयल बंगाल टाइगर को पिंजरे में आगे पढ़ें »

ऊपर