विधायक पर हमले का राजनीति से कोई मतलब नहीं, दो गुटों में व्यक्तिगत स्वार्थ को लेकर हुई हिंसा

हमलाकांड में 13 हुए गिरफ्तार
बैरकपुर : बैरकपुर स्टेशन परिसर में एक मंदिर कमेटी के पुनर्गठन को लेकर रविवार को दो गुटों के बीच मतविरोध और तनाव की घटना घटी। इस दौरान कमेटी के पुनर्गठन को लेकर बैठक कर रहे तृणमूल विधायक राज चक्रवर्ती पर दूसरे गुट के सदस्यों ने हमला बोल दिया हालांकि उनके सुरक्षा कर्मियों ने उन्हें वहां से सुरक्षित निकाल लिया और बाद में टीटागढ़ थाने की पुलिस ने वहां पहुंचकर परिस्थिति को संभाल लिया। घटना को लेकर मिली शिकायत पर पुलिस ने कुल 13 अभियुक्तों को गिरफ्तार करते हुए सोमवार को उन्हें बैरकपुर कोर्ट में पेश किया। अभियुक्तों में 4 को 5 दिनों की पुलिस हिरासत व 9 को 5 दिनों के लिए जेल हिरासत में भेज दिया गया। पुलिस सूत्रों की माने तो घटना के पीछे के कारणों में यह बात सामने आ रही है। इस मामले का राजनीति से कुछ लेना-देना नहीं है बल्कि मंदिर कमेटी के पुनर्गठन को लेकर दो गुटों के बीच व्यक्तिगत तनाव को लेकर इस तरह की घटना को अंजाम दिया गया है। सूत्रों के मुताबिक मंदिर के ट्रस्ट में आये पैसों के दुरुपयोग की शिकायतें सामने आयी थीं। वहीं आरोप यह भी है कि कमेटी के कुछ अधिकारी उन पैसों को व्यक्तिगत तौर पर उपयोग करना चाहते हैं ​जिसका दूसरे गुट ने विधायक से शिकायत की थी। इस शिकायत को देखते हुए कमेटी में पारदर्शिता और पैसों को मंदिर के विकास, जनसेवा में लगाने के उद्देश्य से विधायक ने नयी कमेटी गठन को लेकर ही बैठक शुरू की थी कि तभी विपरीत पक्ष ने वहां हमला बोल दिया। फिलहाल घटना के दूसरे दिन भी पुलिस ने परिस्थितियों पर नजर बनाये रखा है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

किस वक्त नहाने से होते हैं सबसे ज्यादा फायदे…

कोलकाता : नहाना आपकी दैनिक दिनचर्या का अहम हिस्सा है और आपकी हेल्थ के लिए सबसे अहम चीज है। ये तो आप जब जानते हैं आगे पढ़ें »

ऊपर