असदुद्दीन ओवैसी पहुचें बंगाल, फुरफरा शरीफ जाकर मांगी दुआएं

कोलकाताः बिहार चुनाव में सफलता हासिल करने के बाद एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी की नजरें अब बंगाल विधानसभा चुनाव पर हैं। इसी सिलसिले में ओवैसी रविवार की सुबह बंगाल पहुंचे। वे सुबह हैदराबाद के विमान से कोलकाता पहुंचें। कोलकाता पहुंचने के साथ ही वे हुगली में फुरफुरा शरीफ में पीर की दरगाह पर पहुंच गए। उन्होंने वहां दुआएं मांगीं और अब्बास सिद्दिकी के साथ मुलाकात और बैठक की। इसके साथ ही उन्होंने बंगाल की स्थिति को समझने की कोशिश की। अब्बास सिद्दिकी भी बंगाल में चुनाव लड़ने की बात कर रहे हैं। उनका मुस्लिम समाज में काफी प्रभाव माना जाता है। बता दें कि बंगाल में अप्रैल-मई में विधानसभा चुनाव है। इस चुनाव को लेकर एआईएमआईएम चीफ ओवैसी ने अब अपनी सक्रियता बढ़ा दी है।
चुनाव पर तैयारियों पर चर्चा की थी
हाल में ओवैसी ने पश्चिम बंगाल से आए पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ मीटिंग की थी और चुनाव पर तैयारियों पर चर्चा की थी। बिहार चुनाव के नतीजों के बाद ही ओवैसी ने ही ऐलान कर दिया था कि उनका अगला लक्ष्य पश्चिम बंगाल है। बता दें कि पश्चिम बंगाल में मुस्लिम वोटरों की संख्या करीब 30 फीसदी है।
बंगाल में ममता को मिलते रहे हैं मुस्लिमों के वोट

बंगाल में ममता बनर्जी की पार्टी को बड़ी संख्या में टीएमसी के वोट मिलते हैं। इसके बाद कांग्रेस का नंबर आता है। बिहार में मुस्लिम मतदाताओं के बीच एआईएमआईएम का उभार ममता बनर्जी के चिंता का सबब है। बंगाल में तीन जिले ऐसे हैं, जहां मुस्लिम वोटर 50 फीसदी से भी अधिक है, जबकि कई जिलों में 25 फीसदी से अधिक की हिस्सेदारी है। गौरतलब है कि 10 नवंबर को बिहार विधानसभा चुनाव के नतीजों के बाद ओवैसी ने कहा था कि वे बंगाल का चुनाव लड़ेंगे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

चुनाव में 60 से 80 सीटों पर लड़ सकती है सिद्दकी की नयी पार्टी

फुरफरा शरीफ के पीरजादा बनाएंगे मुस्लिम, दलितों और आदिवासियों की पार्टी 21 को होगा नाम का ऐलान सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : राज्य में अप्रैल-मई में विधानसभा चुनाव होने आगे पढ़ें »

सन्मार्ग वाद-संवाद ः पूर्वी भारत का सबसे बड़ा बौद्धिक मंथन आज

कोलकाता ः पूर्वी भारत के सबसे बड़े हिन्दी बौद्धिक मंथन 'सन्मार्ग वाद संवाद-2021' का आयोजन आज शनिवार यानी 16 जनवरी की शाम बीआरसी लॉन्स में आगे पढ़ें »

ऊपर