अर्पिता मुखर्जी है सबसे बड़ी राजदार या मोहरा

कोलकाता : बंगाल के चर्चित शिक्षा भर्ती घोटाले की जांच की आंच अब राज्य सरकार तक पहुंचती नजर आ रही है। इसका पहला शिकार मंत्री पार्थ चटर्जी हुए है। उनकी करीबी माने जाने वाली अर्पिता मुखर्जी के घर पर ईडी ने छापेमारी की तो करीब 21 करोड़ कैश बरामद हुए। इस घटना के बाद से ईडी ने पार्थ चटर्जी को गिरफ्तार और अर्पिता को हिरासत में लिया है। अर्पिता मुखर्जी को पार्थ चटर्जी का बेहद करीबी बताया जा रहा है। ऐसे में लोग तरह तरह के कयास लगा रहा है कि अर्पिता ही वह शख्स है जो इस घोटाले के राज का हर एक पन्ना खोल सकती है  तो दूसरी तरफ यह भी कहा जा रहा है कि वह इन सबसे बीच सिर्फ मोहरा बन रही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

बंगालः पति के रुपये व घर के गहने लेकर पत्नी प्रेमी संग फरार

सन्मार्ग संवाददाता मालदह : टोटो खरीदने के लिए थोड़े थोड़े रुपये जमा किये थे और लाखों रुपये बचाये थे,लेकिन पति का टोटो खरीदने का सपना पूरा आगे पढ़ें »

ऊपर