केंद्र की भूमिका पर झुंझलाये अर्जुन सिंह

बुधवार की देर रात कड़ी सुरक्षा के बीच सांसद के घर पर हुई बमबारी
बैरकपुर : भाजपा सांसद अर्जुन सिंह के घर को लक्ष्य कर बुधवार की रात को दो बम मारे गये जिसको लेकर एक बार फिर सांसद की तीखी प्रतिक्रिया सामने आयी है। उन्होंने गुरुवार को इस बाबत जगदल थाने में शिकायत दर्ज करवायी है जिसको लेकर पुलिस की एक टीम वहां पहुंची और छानबीन की हालांकि बमबारी की इस घटना को लेकर भी कई तरह के सवाले खड़े हो रहे हैं। सांसद की सुरक्षा में सीआईएसएफ के जवानों के 24 घंटे सक्रिय होने के बाद भी उनके घर को लक्ष्य कर किस तरह से बम मारे गये ? इस पर तृणमूल का कहना है कि यह सब मनगढ़ंत है क्यों​कि सांसद खुद ही अपने घर पर बमबारी करवा कर यहां माहौल को अशांत रखना चाहते हैं। दूसरी ओर बमबारी की इस घटना को लेकर सांसद ने आरोप लगाया कि तृणमूल उनकी हत्या करवाना चाहती है। वहीं उन्होंने चुनाव के बाद भी जारी हिंसा को लेकर केंद्र की भूमिका पर किये गये सवाल के जवाब में भी अपनी झुंझलाहट दिखायी और कहा कि केंद्रीय सरकार की कार्रवाई को आम जनता देखना चाहती है। बंगाल में गणतंत्र की हत्या हो रही है। सांसद तक सुरक्षित नहीं है तो आम जनता की क्या बिसात है। उन्होंने कहा कि हिंसा के विरुद्ध सख्त कदम उठाये जाने चाहिए। उल्लेखनीय है कि इसके पहले भी सांसद ने कर्मियों की सुरक्षा को सुनिश्चित नहीं कर पाने पर नाराजगी जताते हुए कहा था कि इससे अच्छा है कि हम सभी जनप्रनिधि इस्तीफा दे दें। वहीं अब सांसद की इस प्रतिक्रिया ने फिर एक बार अंचल में राजनीतिक चर्चाओं को हवा दे दी है। दूसरी ओर घटना को लेकर पुलिस का कहना है कि सांसद के घर पर हुई बमबारी की छानबीन की जा रही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

पैरेंट्स ने नहीं दिलाया कुत्ता तो बेटे ने कर ली…

विशाखापट्टनम : एक नाबालिग लड़के ने सिर्फ इसलिए खुदकुशी कर ली कि उसे माता-पिता ने घर में पालने के लिए कुत्ता लाने से मना कर आगे पढ़ें »

5000 हेल्थ अस्टिटेंट को दी जाएगी मरीजों की देखभाल की ट्रेनिंग : केजरीवाल

नई दिल्ली : राज्यों ने जानलेवा कोरोना वायरस की संभावित तीसरी लहर से निपटने की तैयारी शुरू कर दी है। इसी क्रम में दिल्ली सरकार भी आगे पढ़ें »

ऊपर