क्या तृणमूल में वापसी की राह पर हैं मुकुल-राजीब ?

मुकुल को लेकर सौगत ने दिया संकेत
फिरहाद ने राजीब को कहा छोटा भाई
कोलकाता : भाजपा नेता रा​जीब बनर्जी और विधायक विधायक मुकुल राय क्या दोबारा तृणमूल में वापसी करने वाले हैं। यह सवाल आज से नहीं बल्कि कई दिनों से राजनीतिक गलियारों में चर्चा का विषय बना हुआ है। इसका कारण मुकुल और राजीब की भाजपा से अचानक हो रही दूरियां भी हैं जो दोनों को लेकर कई सवाल पैदा कर रही हैं। इधर राजीब ने ममता बनर्जी और राज्य सरकार के पक्ष में जिस तरह प्रतिक्रिया दी उससे यह तो साफ हो गया कि राजीब का झुकाव अभी भी दीदी की ओर है। इस बीच तृणमूल के प्रवक्ता व सांसद सौगत राय ने भी इशारों में ऐसे संकेत दिए हैं जिससे मुकुल के तृणमूल में वापसी के कयास और बढ़ रहे हैं जबकि मंत्री फिरहाद हकीम ने राजीब बनर्जी को कहा कि वह छोटे भाई के समान है।
मुकुल ने कभी अपशब्द नहीं कहा : सौगत
मुकुल को लेकर सौगत राय ने कहा कि अभिषेक बंद्योपाध्याय के साथ कई लोग तृणमूल में वापसी के लिए सम्पर्क साध रहे हैं। यह सच है कि एक समय में इन नेताओं ने तृणमूल के साथ दगाबाजी की लेकिन अब वे घर वापसी करना चाहते हैं। मेरे हिसाब से पूरे वाकये को दो अलग नजरिये से देखने की जरूरत है, नरमपंथी और कट्टरपंथी। सौगत ने कहा कि बहुत नेताओं ने पार्टी छोड़ी लेकिन कभी ममता बनर्जी का अपमान नहीं किया। दूसरी तरफ कई नेताओं ने पार्टी छोड़ने के साथ ममता बनर्जी का अपमान भी किया।
छोटा भाई है, भूल का अहसास होना अच्छा है : फिरहाद
फिरहाद ने कहा कि राजीब मेरे छोटे भाई के समान है। उसने ऐसा क्यों किया, भाजपा में क्यों गया यह अभी भी मेरे लिए बड़ा सवाल है। भाजपा में जाने के एक दिन पहले भी राजीब के साथ मेरी फोन पर बात हुई थी। अब अगर उसे अपनी भूल का अहसास हो रहा है तो इससे अच्छा कुछ हो ही नहीं सकता है। यहां हम बताते चले कि डोमजूर में करारी हार के बाद राजीब ने भाजपा से दूरी बना ली। अब राजीब तृणमूल में आते है तो क्या उनका स्वागत किया जाएगा इस पर फिरहाद ने साफ किया कि किसी का भी स्वागत करने वाले वे कोई नहीं है।
ममता बनर्जी लेंगी अंतिम फैसला
तृणमूल के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बंद्योपाध्याय ने घर वापसी करने वाले नेताओं के लिए साफ कह दिया है कि ममता बनर्जी ही अंतिम फैसला लेंगी। अभिषेक ने कहा कि सिर्फ तृणमूल छोड़कर जाने वाले ही नहीं बल्कि भाजपा के कई विधायक भी तृणमूल में आने की इच्छा प्रकाश कर चुके है। अब देखना है कि इन नेताओं की तृणमूल में एंट्री कब तक और किस तरह होती है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राज्य में गणतंत्र का घुट रहा है दम : राज्यपाल

शुभेंदु अधिकारी समेत भाजपा विधायक मिले राज्यपाल से सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : सोमवार को​ विधानसभा में विपक्षी दल के नेता शुभेंदु अधिकारी समेत भाजपा विधायकों ने राजभवन आगे पढ़ें »

बेड पर सेक्स के दौरान कुछ इस तरह…

कोलकाता : परफेक्ट सेक्स जैसी कोई चीज नहीं होती है। सेक्स के दौरान हम सभी गलतियां करते हैं! कुछ गलतियां पूरी तरह से टाली नहीं जा सकती आगे पढ़ें »

ऊपर