अपरूपा ने किया कल्याण का बचाव, कहा – माता सीता महिलाओं के लिए आदर्श हैं

हुगली : तृणमूल सांसद अपरूपा पोद्दार ने उनके साथी सांसद कल्याण बनर्जी द्वारा माता सीता के खिलाफ तथाकथित आपत्तिजनक टिप्पणी किए जाने का बचाव करते हुए कहा कि माता सीता सभी के लिए पूजनीय हैं। वह महिलाओं के लिए आदर्श हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा माता सीता को लेकर गंदी और सस्ती राजनीति कर रही है। उल्टे उन्होंने भाजपा पर हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप लगाया। अपरूपा पोद्दार ने कहा कि भाजपा को बंगाल के विकास के बारे में चर्चा करनी चाहिए। कोरोना की वैक्सीन को किस तरह से आम जनता तक पहुंचाया जाए उसके बारे में चर्चा करनी चाहिए लेकिन दुर्भाग्यजनक रूप से भाजपा इन बातों पर चर्चा ना करके लोगों की धार्मिक भावनाओं के साथ खिलवाड़ कर रही है। कोलकाता में पूर्व मेयर व तृणमूल को छोड़कर भाजपा में शामिल हुए शोभन चटर्जी और उनकी महिला मित्र वैशाखी बंद्योपाध्याय के नेतृत्व में भाजपा की रैली को आरामबाग की सांसद अपरूपा पोद्दार ने प्रेम लीला करार देते हुए कहा कि इस रैली को देखकर लोगों को यह समझ में नहीं आया कि वास्तव में यह किसी राजनीतिक पार्टी की रैली है। लोग इसे प्रेम लीला ही समझ रहे थे। भाजपा नेता शोभन चटर्जी के व्यक्तिगत चरित्र पर उंगली उठाते हुए अपरूपा ने कहा कि शोभन चटर्जी की पत्नी, बेटा, बेटी होने के बावजूद वह उन्हें छोड़कर अपनी तथाकथित महिला मित्र वैशाखी बंद्योपाध्याय के साथ रह रहे हैं। ऐसा चरित्रहीन कल्चर सिर्फ भाजपा का है तृणमूल का नहीं। उन्होंने कहा कि शोभन चटर्जी ने जो भी ममता बनर्जी के खिलाफ बोला है वह भाजपा को खुश करने के लिए और अपने आप को विभिन्न प्रकार के घोटालों से बचाने के लिए कहा है। तृणमूल सांसद ने व्यंग्य करते हुए कहा कि उस रैली में शोभन ने भाजपा के बारे में कम अपनी महिला मित्र वैशाखी बंद्योपाध्याय के बारे में ज्यादा कहा है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

खुद बनेंगे किंगमेकर, सभी 294 सीटों पर लड़ेंगे पीरजादा

पीरजादा अब्बास सिद्दीकी ने बनाया इंडियन सेक्युलर फ्रंट बंगाल की राजनीति में 'भाईजान' की एंट्री ममता को नसीहत : भाजपा के प्रभाव को रोकने के लिए मुख्यमंत्री आगे पढ़ें »

अब मास्टर मोशाय के बेटे ने किया भाजपा का रुख

रवींद्रनाथ भट्टाचार्य ने कहा : बेटा चाहे तो जा सकता है, जरूरी नहीं बाप भी साथ जाये सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : तृणमूल कांग्रेस में अपनी धाक रखने आगे पढ़ें »

ऊपर