अजंता को 3 महीने के लिए किया गया सस्पेंड

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : पहले ही दिये गये प्रस्ताव पर शनिवार को मुहर लग गयी। तृणमूल के मुखपत्र जागो बांग्ला में लिखने के कारण अनिल विश्वास की पुत्री अजंता विश्वास को सस्पेंड कर दिया गया। माकपा की अंचल कमेटी का सदस्य होकर भी तृणमूल के मुखपत्र में लिखने के कारण अजंता को लेकर विवाद हुआ था। जिला कमेटी के पास स्व. माकपा नेता अनिल विश्वास की पुत्री को 3 महीने के लिए सस्पेंड करने का प्रस्ताव एरिया कमेटी ने दिया था जिस पर शनिवार को निर्णय लेते हुए अजंता को 3 महीने के लिए सस्पेंड कर दिया गया। गत महीने उन्होंने तृणमूल के मुखपत्र के लिए संपादकीय लिखा था जिसके बाद से ही इसे लेकर विवाद चल रहा था। ‘बंग राजनीति में नारी शक्ति’ शीर्षक से लिखे गये इस संपादकीय में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की प्रशंसा की गयी थी। इसके अलावा नंदीग्राम में तृणमूल सुप्रीमो की लड़ाई की बात भी इसमें कही गयी है। अंतिम किश्त के सामने आने के बाद माकपा की एरिया कमेटी की सदस्य अजंता विश्वास को पार्टी ने शो कॉज भी किया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

ब्रेकिंग : पुरुलिया में 237 से अधिक बच्चे बुखार के कारण अस्पताल में भर्ती

पुरुलिया : पुरुलिया देवेन महतो मेडिकल कॉलेज अस्पताल के शिशु विभाग में बुखार से पीड़ित बच्चों की संख्या रोजाना बढ़ती जा रही है। घटना के आगे पढ़ें »

ऊपर