यास में एयरपोर्ट बंद रहेगा या नहीं फैसला होगा आज

छोटे एयरक्राफ्ट व उपकरणों को सेफ रखने के लिए उठाये गये कई अहम कदम
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : चक्रवात यास के दौरान कोलकाता एयरपोर्ट को बंद रखा जाएगा या फिर उड़ान सेवाएं जारी रहेंगी, इसका फैसला सोमवार को नहीं लिया जा सका है। इसका निर्णय आज मंगलवार को लिया जाएगा। वहीं यास तूफान में एयरपोर्ट का कोई नुकसान न हो, इसके लिए सभी को तैयार रहने को कहा गया है। सुरक्षा के लिए जरूरी सभी कदम उठाने के लिए कह दिया गया है। इनमें एयरलाइंसों को भी कहा गया है कि वे अपने विमानों व अन्य उपकरणों को सुरक्षित स्थानों पर रख दें ताकि कोई नुकसान न हो। तेज हवाओं में विमान का कोई नुकसान न हो, इसके लिए उन्हें बांध कर रखें। इसके साथ ही फ्लड लाइट्स को भी उतारने की तैयारी चल रही है। एयरपोर्ट सूत्रों के मुताबिक यास तूफान कल यानी कि बुधवार की दोपहर के बाद अपना असली रूप धारण करेगा। कहा जा रहा है कि हो सकता है कि यहां 80 से 100 किलोमीटर इस तूफान की रफ्तार हो। इसे लेकर आज यानी मंगलवार को एयरपोर्ट अथिरिटी ऑफ इंडिया के अधिकारी निर्णय लेंगे।
ये सावधानियां बरती जा रही हैं
एयरलाइंस को कहा गया है कि अम्फान के वक्त जो-जो सावधानियां बरती गयी थीं, वैसी ही सावधानियां इस बार भी बरतनी हैं।
1. इसमें हैंगर के अंदर रखे जाने वाले छोटे विमान को भी बांधने को कहा गया है। बड़े विमानों को सुरक्षित करने की जिम्मेदारी एयरलाइंस को दी गयी है।
2. अगर अन्य एयरपोर्ट पर जगह हो तो उसे वहां रखने के लिए कहा गया है। वहीं सभी ग्राउंड हैंडलिंग उपकरणाें को जंजीर से बांधने के लिए कहा गया है।
3. वहीं एयरोब्रिज को भी बंद रखा जाएगा। यानी कि उसे भी टर्मिनल में इस तरीके से बांध कर रखा जाएगा ताकि यह इधर से उधर तूफान में न टूटे। फ्लडलाइट्स को नीचे उतारने के लिए कहा गया है।
4. स्टेप लैडर व सामानों को ढोने वाले ह्विकल्स को भी पत्थरों से बांधकर रखने को कहा गया है। वहीं एयरलाइंस अधिकारियों को सबसे अधिक विमान को होने वाले नुकसान के बारे में चिंता है।
5. एप्रोन, एयरलाइंस व सुरक्षा कर्मियों के साथ ही साथ एटीसी अधिकारियों को भी अलर्ट मोड पर रहने को कहा गया है। अब देखना यह है कि आगे क्या निर्णय आज एयरपोर्ट प्रबंधन लेता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

साल्टलेक सेक्टर-5 स्टेशन का भी निजीकरण

अब बंधन बैंक का लगा स्टेशन पर नाम कोलकाताः मेट्रो रेलवे की ओर से कई स्टेशनों को निजीकरण किए जाने की पहल पहले ही गई है। आगे पढ़ें »

महिला को डायन करार देकर पीटने का आरोप

मिदनापुर: पश्चिम मिदनापुर जिले के जंगलमहल इलाके में एक बार फिर से एक महिला को डायन करार देते हुए उसे बुरी तरह से पीटे जाने आगे पढ़ें »

ऊपर