महानगर में सोना तस्करी में अब एयरलाइंस कर्मी बने नया मोहरा

कोलकाता : अब महानगर में सोना तस्करी गिरोह ने नया तरीका ढूंढ निकाला है जिसके लिए एयरलाइंस स्टॉफों का इस्तेमाल किया जा रहा है। हाल ही में हुए कुछ खुलासे में देखा गया है कि सोना तस्करी के अंतिम पड़ाव में एयरलाइंस स्टॉफ के जरिये तस्करी के सोने को एयरपोर्ट के बाहर पहुंचाया जा रहा है। इनमें कुछ को तो ऑन स्पॉट पकड़ लिया जा रहा है लेकिन कुछ सबूतों के अभाव में बच निकल रहे हैं। अधिकतर मामलों की छानबीन के अंत में कोई न कोई एयरलाइंस के स्टॉफ के बारे में पता चलता है, फिर जांच शुरू की जाती है। पहले सोना तस्करी में तस्कर सीधे तौर पर जुड़े होते थे और तस्करी को अंजाम देते थे लेकिन अब इनके नये साथी कुछ एयरलाइंस कर्मी बन गये हैं। हाल ही में कई ऐसी घटनाएं घटी हैं जिनमें एयरलाइंस कर्मियों की संलिप्तता पायी गयी है। 
हाल के मामले

25 नवंबर को कोलकाता एयरपोर्ट पर कस्टम्स अधिकारियों ने 77 लाख की कीमत के 2 किलो सोने के बिस्कुट के साथ एक महिला यात्री को पकड़ा था। इसके लिए कस्टम्स की एआई यूनिट के अधिकारी इमिग्रेशन की तरफ नजर बनाए हुए थे। जब महिला इमिग्रेशन विभाग के निकट के टॉयलेट से बाहर निकली तो उसे पकड़ लिया। उससे पूछताछ के बाद टॉयलेट के अंदर से सोना जब्त किया गया। चूंकि महिला कस्टम्स अधिकारी के अंदर जाने की भनक एयरलाइंस कर्मी को लग गयी थी तो कोई अन्य उसके अंदर नहीं आया। वहीं दूसरे एक अन्य मामले में देखा गया है कि बैंकाक व म्यांमार से आये यात्रियों पर जब कस्टम्स अधिकारी ने नजर रखी तो देखा कि वे लोग उड़ान से उतरने के बाद वाशरूम गये। उनके निकलने के बाद जब एयरलाइंस स्टॉफ बाहर निकला तो उसे कस्टम्स की टीम ने पकड़ा और सर्च करने पर उसके पास से 2 किलो सोना बरामद किया। इसके बाद दोनों यात्रियों के साथ उसे भी गिरफ्तार किया गया। वहीं बैंकाक से आये विमानों से अक्सर सोना जब्त किया जाता है। वहीं हर रोज कस्टम्स की टीम 400 से 500 ग्राम सोना विमानों से या फिर यात्रियों से जब्त कर रही है।
पहले का मोडस ऑपरेंडी

पहले तस्कर यात्रियों की तरह सामानों में सोना छिपाकर लाते थे। पहले एयरलाइंस कर्मियों पर कम शक किया जाता था। कई बार एयरलाइंस कर्मी भी कस्टम्स को यह सूचित करते थे कि उक्त यात्री की गतिविधि संदेहजनक है। इसके अलावा यात्री अपने शरीर में सोना छिपाकर लाते थे। अब तस्कर यह न करके एयरलाइंस कर्मियों का इस्तेमाल कर सोना एयरपोर्ट से बाहर निकाल रहे हैं।
क्या कहना है कस्टम्स के वरिष्ठ अधिकारी का
यह सच है कि बाहर से आने वाले यात्रियों पर नजर रखना तथा उन्हें पकड़ना उतना मुश्किल नहीं है लेकिन एयरलाइंस स्टॉफ ही इन सबसे जुड़ जाएं तो यह एजेंसियों के लिए काफी चुनौतीपूर्ण हो जाता है। अब जब ऐसे कई मामले सामने आये हैं तो कस्टम्स की टीम भी काफी सर्तक हो गयी है। हमारी इंटेलिजेंस टीम तरह-तरह से एयरपोर्ट पर तस्करों को पकड़ रही है। ऐसे में विमान की सीट के नीचे भी सोना छिपाकर लाने की परंपरा बढ़ गयी है। इन सब मामलों पर कस्टम्स अ‌धिकारी ने कहा कि हमारी नजर है तथा पूरी कोशिश है कि एक भी तस्कर बच कर न निकले तथा सभी तस्करी की घटनाओं पर हमारी टीम फुलस्टॉप लगा सके।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बाहरियों से बचाना है बंगाल की संस्कृति को : फिरहाद

उत्तर बैरकपुर में नवनिर्मित कन्वेंशन सेंटर का हुआ उद्घाटन बैरकपुर : तथाकथित बड़े नेता बंगाल के जिलों व शहरों में चक्कर लगा रहे हैं और यहां आगे पढ़ें »

एकजुट होकर करें काम, दिल्ली ने दी भाजपा के बड़े नेताओं को चेतावनी

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : विधानसभा चुनाव करीब है और ऐसे समय में अलग - अलग होकर प्रदर्शन अथवा किसी अन्य तरह का काम करना नहीं चलेगा। आगे पढ़ें »

ऊपर