परिवहन में राहत के बाद पहले वीकेंड पर शॉपिंग मॉल्स और मार्केट में होने लगी है भीड़

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : परिवहन में गत 1 जुलाई से कुछ सुधार होने और पाबंदियों में राहत मिलने के बाद शनिवार को पहला वीकेंड था। वीकेंड पर अधिकतर लोग शॉ​पिंग करने के लिए जाते हैं। अब पाबंदियों में कुछ ढील मिलने के बाद से टैक्सी, ऐप कैब, ऑटो आ​दि मिलने लगे हैं। हालांकि बसें कुछ कम जरूर हैं, लेकिन अब लोग स्वाभाविक स्थिति की ओर लौटना चाहते हैं। ऐसे में शनिवार को परिवहन में राहत के बाद पहले वीकेंड पर मार्केट और शॉपिंग मॉल्स में लोगों की भीड़ देखी गयी। भले ही पूरी तरह सामान्य स्थिति अभी नहीं हुई है, लेकिन स्थितियां जरूर स्वाभाविक की ओर लौटने की कोशिश में हैं।
बांग्लादेश बॉर्डर के खुलने का इंतजार कर रहे हैं न्यू मार्केट के दुकानदार
न्यू मार्केट में स्थानीय ग्राहक से अधिक बांग्लादेश के लोग आते हैं। यहां शनिवार को ग्राहकों की अच्छी भीड़ देखी गयी। हालांकि यहां के दुकानदार बांग्लादेश बॉर्डर के खुलने का इंतजार कर रहे हैं जो पिछले काफी समय से कोरोना के कारण बंद है। उदय शंकर लाल ने कहा, ‘हमारे यहां काफी संख्या में बांग्लादेश से ग्राहक आते हैं। उन पर ही मार्केट निर्भर करता है, ऐसे में अगर बांग्लादेश बॉर्डर खुल जाए तो यहां ग्राहकों का आना स्वाभाविक हो सकता है। स्थानीय ग्राहक काफी मॉल में जाते हैं जिस कारण हमारा मार्केट काफी हद तक बांग्लादेश के ग्राहकों पर निर्भर है।’ इसी तरह एक और दुकानदार विकास ने कहा कि लोग तो आ रहे हैं, लेकिन अब भी ट्रेनें और मेट्रो बंद हैं। निजी बसें भी ना के बराबर चल रही हैं जिस कारण पर्याप्त संख्या में ग्राहक नहीं आ पा रहे हैं।
लोकल ट्रेनें और मेट्रो का चलना है जरूरी
न्यू मार्केट ज्वाइंट ट्रेडर्स फेडरेशन के सचिव राजीव सिंह ने कहा, ‘कुछ सुधार हुआ है, लेकिन अब भी स्थिति पूरी तरह स्वाभाविक नहीं हुई है। जब तक लोकल ट्रेनें और मेट्रो नहीं चलतीं, तब तक स्थिति पूरी तरह स्वा​भाविक कैसे होगी।’
पिछले सप्ताह की तुलना में दुगुना हुआ फुटफॉल
ना केवल मार्केट बल्कि शॉपिंग मॉल्स में भी काफी संख्या में ग्राहक आने लगे हैं। एक्रोपॉलिस मॉल के जीएम के. विजयन ने कहा, ‘गत सप्ताह की तुलना में इस सप्ताह फुटफॉल लगभग दुगुना हो गया है। पब्लिक ट्रांसपोर्ट खुलने के साथ – साथ ग्राहकों की संख्या भी बढ़ने लगी है। परिवहन पूरी तरह स्वाभाविक होने पर स्थितियां और स्वाभाविक होंगी। मॉल के फूड कोर्ट और अन्य दुकानों में भी ग्राहकों की भीड़ हो रही है।’
‘मॉल में 70% तक रिकवरी आ गयी है’
अम्बुजा नेवटिया ग्रुप के होलटाइम डायरेक्टर (मार्केटिंग एण्ड इवेंट्स) रमेश पाण्डेय ने कहा, ‘बिक्री बहुत अच्छी हो रही है। लगभग 70% तक रिकवरी हो गयी है, उम्मीद है कि अगस्त के अंत या सितम्बर महीने की शुरुआत तक 100% रिकवरी हो जाएगी।’ उन्होंने कहा, ‘चूंकि अब भी 50% क्षमता के साथ शॉपिंग मॉल्स चल रहे हैं, ऐसे में लोगों में भी थोड़ा संशय रहता है कि मॉल में उन्हें घुसने मिलेगा या नहीं। परिवहन पूरी तरह स्वाभाविक हो जाने पर स्थितियां पूरी तरह स्वाभाविक हो जाएंगी। एण्ड ऑफ सीजन सेल भी कई ब्रांड ने चालू कर दिये हैं, ऐसे में अब स्थिति स्वाभाविक होने की पूरी उम्मीद है।’
8 बजे तक समय होने से काफी राहत
साउथ सिटी ग्रुप के वाइस प्रेसिडेंट मन मोहन बागड़ी ने कहा, ‘शॉपिंग मॉल्स खुलने का समय 8 बजे तक होने से काफी राहत मिली है। पिछले शनिवार को जहां 10 हजार लोगों की भीड़ हुई थी, वहीं इस शनिवार को लगभग 18 हजार लोगों की भीड़ हुई। आगे परिवहन में जैसे सुधार होगा, उसी अनुसार भीड़ भी बढ़ने की उम्मीद है।’

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

सावन में बुधवार का दिन भी होता है बेहद खास, ये 5 उपाय दिखाएंगे कमाल

कोलकाता : हिन्दू धर्म में ज्योतिषशास्त्र के अनुसार सावन का माह बेहद ही खास माना जाता है। यह माह पूर्ण रूप से भगवान शिव को आगे पढ़ें »

ऊपर