उड़ान की लैंडिंग के बाद अब झटपट यात्री विमान से निकल सकेंगे बाहर

सन्मार्ग संवाददाता,कोलकाता : उड़ान परिसेवा को दुरुस्त बनाने के लिए एयरपोर्ट अथारिटी ऑफ इंडिया नयी-नयी तकनीकियों और अवसरों पर काम करता आ रहा है। ऐसे में लैंडिंग के बाद विमान तुरंत टैक्सी वे से एयरपोर्ट की ओर आ जाए, इसके लिए अब तैयारी पूरी कर ली गयी है। सूत्रों के मुताबिक कोलकाता एयरपोर्ट पर पिछले 3 सालों से इस्तेमाल नहीं हो पा रहे टैक्सी वे आर को अब रैपिड टैक्सी वे की तरह इस्तेमाल करने की अनुमति डीजीसीए से मिल गयी है। इससे लगभग 8 से 10 सेकेंड की रन वे ओक्यपेंसी में बचत होगी जो कि अराइवल उड़ानें अब तक ले लेती आयी हैं।

इससे अगली उड़ानों के लिए होगा फायदा

अब इस टैक्सी वे के जरिये तुरंत अराइवल उड़ानों को एयरपोर्ट की ओर लाया जा सकेगा। इससे मेन रन वे को तुरंत खाली किया जा सकेगा ताकि अगली उड़ानों को फायदा हो। सूत्रों के मुताबिक टैक्सी वे आर के इस्तेमाल की मंजूरी मिल गयी है। इसका इस्तेमाल रैपिड टैक्सी वे की तरह मध्यमग्राम या रन वे के उत्तर से आने वाली उड़ानों के लिए किया जा सकेगा। इस रन वे का इस्तेमाल साल में 7 महीने से अधिक किया जाता है और अक्सर यह रन वे काफी व्यस्त रहता है लेकिन अब इस टैक्सी वे की मदद से रन वे को तुरंत खाली किया जा सकेगा।

यात्री तुरंत विमान से निकल सके और प्रस्‍थान करें

पहले स्पीड कम करके उड़ानों को एयरपोर्ट की ओर लाया जाता था लेकिन अब हाई स्पीड में ही इसे टैक्सी वे आर से जल्दी एयरपोर्ट की ओर लाया जाएगा ताकि यात्री तुरंत विमान से निकले और अपने गतंव्य की ओर प्रस्थान कर सके।

शेयर करें

मुख्य समाचार

ऊपर