ईडी के बाद सीबीआई और आईटी सहित अन्य एजेन्सियां भी कर सकती हैं छानबीन

महंगी लग्जरियस कारों व रुपयों और बेनामी संपत्ति के मामले में आयकर कर सकती है छानबीन
आपराधिक षड्यंत्र के मामले अर्पिता व पार्थ चटर्जी से सीबीआई की टीम कर सकती है पूछताछ
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : ईडी की टीम के इतिहास रचने के बाद अब सीबीआई और आयकर विभाग की टीम इस मामले पर पैनी नजर बनाए हुए है। सूत्रों की माने तो ईडी की टीम के साथ ये टीम सम्पर्क में है। ईडी की छानबीन समाप्त होते ही आयकर व सीबीआई की टीम भी इस मामले में एक्शन ले सकती है। इन रुपयों की बरामदगी के बाद अर्पिता मुखर्जी व पार्थ चटर्जी से सीबीआई की टीम पूछताछ कर सकती है। वहीं आयकर की टीम इन जब्ती पर टैक्स के अलावा बेनामी सम्पत्ति एक्ट के तहत मामला कर सकती है। वहीं महंगी लग्जरियस कारों के बारे में भी आयकर की टीम उन्हें नोटिस भेज सकती है।
पहली बार पार्थ चटर्जी ने भी खोले कई राज, कहा – कई सिफारिशें आती थीं
अब तक एसएससी मामले की छानबीन में असहयोग करने वाले पार्थ चटर्जी ने गुरुवार को पहली बार सहयोग किया। सूत्रों की माने तो अब तक ईडी के अधिकारियों को असहयोग करने वाले पार्थ चटर्जी ने पहली बार सहयोग किया है और ईडी के अधिकारियों से कहा है कि नौकरी देने के लिए कई नेताओं ने भी सिफारिश की थी। फिलहाल ईडी इस मामले में उन नेताओं के खिलाफ सबूत जुटा रही है। अब तक पार्थ द्वारा ईडी अधिकारियों को सिर्फ और सिर्फ निगेटिव जवाब मिलता आया है। यह पहली बार है जब पॉजिटिव जवाब उन्हें सुनने को मिला। अब तक उनके द्वारा आमी जानी ना यानी कि मैं नहीं जानता, बोलते पारबो ना यानी कि मैं बोल नहीं सकता और आमी किछु कोरी नी यानी कि मैंने कुछ नहीं किया , बोला जाता था लेकिन अब ईडी के अधिकारियों को वे कुछ – कुछ सवालों के जवाब दे रहे हैं।
सीबीआई आपराधिक षड्यंत्र का मामला कर सकती है
सीबीआई की टीम पार्थ व अर्पिता के मामले में आईपीसी की धारा 120 बी के तहत आपराधिक षड्यंत्र का मामला कर सकती है। सूत्रों के मुताबिक इसके अलावा सीबीआई के अधिकारियों को यह संदेह है कि उनके पास से जो कैश बरामद हुए हैं, उनमें से कुछ चिटफंड कंपनियों के भी हो सकते हैं। इसलिए ईडी की रिमांड पूरी होने के बाद सीबीआई भी इनकी कस्टडी के लिए कोर्ट का रुख कर सकती है। वहीं अन्य एजेंसियों में आईबी व नेशनल सिक्योरिटी एजेंसी भी पैनी नजर बनायी हुई है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

प्रदेश भाजपा का अध्यक्ष बनाया जा सकता है शुभेंदु को

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : प्रदेश भाजपा में नये और पुराने के बीच की गुटबाजी कोई नयी बात नहीं रह गयी है। गत वर्ष विधानसभा चुनाव में आगे पढ़ें »

ऊपर