20 महीने बाद आज से खुल जाएंगे राज्य के अधिकांश स्कूल व कॉलेज

* छात्र-छात्राओं के साथ स्कूल प्रबंधन में काफी उत्साह
* स्कूलों में तैयारियां पूरी, शिक्षा विभाग भी तत्पर
राज्य सरकार के गाइडलाइन पर एक नजर
* सोमवार से शनिवार होंगी क्लासेज। 9वीं व 11वीं के छात्रों की क्लासेज सुबह 10 से दोपहर 3.30 बजे तक चलेगी। 10वीं व 12वीं के छात्रों की क्लासेज सुबह 11 बजे से शाम 4 बजे तक चलेगी
* फिजिकल क्लास के अलावा 11वीं व 12वीं के छात्रों की प्रैक्टिकल परीक्षा 16 नवम्बर से ली जा सकती है।
* फिलहाल खेल व अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रमों पर रहेगी। शिक्षकों की मौजूदगी में क्लास में प्रार्थना होगी
* होस्टल में फिलहाल पार्टिशन रहेगा। आइसोलेशन रूम भी रखना होगा।
* स्कूल, कॉलेज या विश्वविद्यालय में छात्र अंगूठी, बाला, हार समेत किसी तरह के गहने नहीं पहन सकते।
* सभी को अपना पानी का बोतल लेकर आना होगा। टिफिन की शेयरिंग नहीं की जा सकती, जंक फूड खाने की भी मनाही हाेगी।सन्मार्ग संवाददाता
काेलकाता : कोरोना के कारण लगभग 20 महीने तक बंद रहने के बाद आज यानी मंगलवार 16 नवम्बर से राज्य के स्कूल व कॉलेज नया सबेरा देखेंगे। फिलहाल राज्य सरकार द्वारा कक्षा 9 से 12वीं तक के छात्र-छात्राओं के लिए स्कूल खाेलने की घोषणा की गयी है। इसके साथ ही राज्य के विश्वविद्यालय व कॉलेज भी आज से खोल दिये जाएंगे। हालांकि कॉलेजों में भी स्कूलों की ही तरह सभी छात्रों को एक साथ नहीं बुलाया जा रहा है। डबल डोज सर्टिफिकेट वालों को ही कॉलेजों में बुलाया जाएगा, इसके अलावा फिलहाल फ्रेशर्स को ना बुलाकर केवल थर्ड सेमेस्टर के छात्रों को ही बुलाया जाएगा। इस बीच, लगभग 20 महीने के बाद अधिकांश स्कूल व कॉलेजों के खुलने की घोषणा से स्कूल प्रबंधन में काफी उत्साह है। छात्रों में भी स्कूल जाने का उत्साह है तो वहीं अभिभावकों में कुछ घबराहट है कि अपने बच्चों को किस तरह सुरक्षा के सभी इंतजामों के साथ स्कूल भेजें।
सोमवार को स्कूलों में हुई जम कर तैयारियां
इधर, सोमवार को राज्य के स्कूलों में स्कूल खोलने से पहले अंतिम तैयारियां की गयीं। पूरे दिन सैनिटाइजेशन के साथ ही कोविड नियमों का पालन करने हेतु स्टिकर व बैनर लगाने व स्कूल की साफ-सफाई का काम जारी रहा।
चरणबद्ध तरीके से खुलेंगे स्कूल
राज्य के शिक्षा मंत्री ब्रात्य बसु ने पहले ही कहा था कि अभिभावकों पर बच्चों को स्कूल भेजने का दबाव नहीं होगा। ये अभिभावकों पर निर्भर करेगा कि वे बच्चों को स्कूल भेजेंगे या नहीं। इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि छात्रों को शिक्षा की मुख्यधारा में वापस लाना आवश्यक है और इसे देखते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने 16 नवंबर से शैक्षणिक संस्थान खोलने की घोषणा की है। हम कक्षा 9 से 12वीं छात्रों के साथ शुरुआत कर रहे हैं। कुछ दिनों के बाद कोविड -19 स्थिति की समीक्षा कर धीरे-धीरे जूनियर स्तर से सभी कक्षाएं फिर से खोल दी जाएंगी।
करना होगा कोविड नियमों का पालन
स्कूल खोलने को लेकर राज्य सरकार द्वारा पहले ही कहा गया है कि छात्रों व शिक्षकों को कोविड नियमों का पूरा पालन करना होगा। राज्य में आज से 9वीं से 12वीं तक के छात्र स्कूल जाएंगे, लेकिन आगे और जूनियर स्तर के छात्रों के लिए स्कूल खुलेंगे या नहीं, यह पूरी तरह कोविड-19 की परिस्थितियों पर निर्भर करता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

रूपा के बगावती तेवर

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : कोलकाता नगर निगम चुनाव का बिगुल बज चुका है। ऐसे में चुनाव की रणनीति तय करने के लिए राजनीतिक पार्टियों के बीच आगे पढ़ें »

ऊपर