मोदी की सभा से लौट रहे कार्यकर्ताओं पर चली गोली, हुआ एसीड अटैक

सन्मार्ग संवाददाता
नदिया : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की जनसभा में भाग लेकर शनिवार रात घर लौट रहे भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमला हुआ, जिसमें जख्मी हुए तीन कार्यकर्ता शक्तिनगर जिला अस्पताल में इलाजरत हैं। मांझदिया और स्वरुपगंज में हमला हुआ, दोनों ही स्थानों पर हमला का आरोप तृणमूल आश्रित बदमाशों पर है। कृष्णानगर गवर्मेंट कालेज मैदान की सभा से भाग लेकर भाजपा के बूथ सभापति शुभ साहा घर लौट रहे थे। हांसखाली थाना के मामजोवान बाबूपाड़ा के निवासी शुभ पर तीन चार लोगों ने जानलेवा हमला किया। आरोप है कि धारदार हथियार से घायलकर उन पर गोली चलाई गई। घायल अवस्था में उन्हें पहले बगुला अस्पताल एवं रेफर किये जाने पर शक्तिनगर अस्पताल में भर्ती कराया गया। पेशा से ग्रामीण डाक्टर शुभ का दावा है कि अपने अंचल में भाजपा का मजबूत संगठन तैयार किये है, जिससे खफा होकर तृणमूल ने उन्हें जान से मारने के लिए हमला करवाया है, देबू, बप्पा समेत कई लोगों ने मिलकर उन्हें जमीन पर पटक दिया फिर धारदार हथियार से वार करने लगे। हमला के प्रतिवाद में भाजपाईयों ने कृष्णानगर दत्तोफूलिया राज्य सड़क पर टायर जलाकर अवरोध किया। वहीं, तृणमूल नेतृत्व ने आरोप को खारीज करते हुए प्रत्यारोप लगाया कि एक घाट पर दखलदारी को लेकर भाजपा के बीच आपस में विवाद है, जिसे लेकर शुभ पर हमला हुआ है। उधर, कृष्णानगर की सभा से अपने घर नवद्वीप थाना के स्वरुपगंज लौट रहे तापस सेन व तपन राय पर एसीड फेंका गया। दोनों का आरोप है कि उन्हें सुनाकर कुछ लोग प्रधानमंत्री के खिलाफ अपशब्द बोल रहे थें, विरोध करने पर मारपीट पर उतर आये। कुछ लोगों ने बीच बचाव किया, उस समय झगड़ा शांत हो गया। उनके आगे बढ़ते ही पिछें से किसी ने एसीड फेंका जो उनके पीठ पर गिरी। भाजपा सांसद जगन्नाथ सरकार दोनों की घटनाओं की निंदा करते हुए आरोप लगाये कि चार चरण के मतदान से स्पष्ट हो चुका है कि भाजपा सत्ता में आ रही हैं। हार की हताशा झेल रहे तृणमूल के लोगों ने अशांति फैलाने के लिए कर्मियों पर हमला किया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

शुक्रवार के दिन करें मां लक्ष्मी की पूजा, घर की दरिद्रता होगी दूर

कोलकाता : हर कोई घर में सुख-समृद्धि और धन की वृद्धि के लिए मां लक्ष्मी की उपासना करते हैं l धन की देवी को प्रसन्न आगे पढ़ें »

23 मई तक खड़गपुर आईआईटी में लॉकडाउन

खड़गपुर : आईआईटी-खड़गपुर ने बृहस्पतिवार कोविड-19 के बढ़ते मामलों की वजह से 23 मई तक कार्यालय बंद करने की घोषणा की। इसके सचिव तमाल नाथ आगे पढ़ें »

ऊपर