प्रसव के दौरान लापरवाही से नवजात की मौत का आरोप

मरीज के परिजनों ने किया भाटपाड़ा अस्पताल में प्रदर्शन
विधायक ने कहा-अस्पताल में नहीं है सीनियर डॉक्टरों की व्यवस्था
भाटपाड़ा : प्रसव के दौरान ही नवजात के सिर पर चोट लग जाने से बच्चे की मौत का आरोप लगाते हुए मंगलवार को प्रसूता के परिजनों ने भाटपाड़ा स्टेट जनरल अस्पताल में विक्षोभ प्रकट किया। हंगामे की खबर पाकर भाटपाड़ा थाने की पुलिस वहां पहुंची और परिस्थिति को काबू में किया। मिली जानकारी के अनुसार सोमवार की शाम लगभग 7 बजे प्रसव पीड़ा होने पर परिवारवाले उस मरीज को लेकर अस्पताल पहुंचे थे जहां उसे भर्ती कर लिया गया। इसके साथ ही महिला का 2 घंटों बाद ऑपरेशन किया गया। परिवारवालों का आरोप है कि रात लगभग 10 बजे अस्पताल कर्मियों ने एक प्लास्टिक में एक मृत नवजात को उन्हें थमाया। उन्होंने देखा कि बच्चे के सिर पर गंभीर चोट लगी थी जिससे उन्हें समझते देर नहीं लगी कि नवजात के सिर पर चोट लगी है जिस कारण ही उसकी मौत हो गयी। इसके बाद ही वे रोष से फट पड़े। पीड़ित परिवार ने आरोप लगाया कि इस अस्पताल में हर एक सुविधा के लिए पैसे देने पड़ते हैं और यहां तक कि जबरन अस्पताल की आया को लेने के लिए उन्हें बाध्य किया जाता है। उन्होंने इन सभी को पैसे दिये थे ताकि सब कुशल हो मगर ऐसा नहीं हुआ। उन्होंने आरोप लगाया कि प्रसव के दौरान बच्चे के सिर पर किसी चीज से चोट लगी थी जिस कारण उसकी जान चली गयी। इस घटना की जानकारी मिलते ही स्थानीय विधायक पवन सिंह भी घटनास्थल पर पहुंचे। उन्होंने आरोप लगाया कि यहां प्रशिक्षित डॉक्टर नहीं हैं। ट्रेनी व जूनियर डॉक्टरों से यह काम लिया जाता है। इस बाबत प्रशासन से बार-बार मांग ​किये जान पर भी राज्य सरकार ने इस ओर ध्यान नहीं दिया जिस कारण आज नवजात की मौत हो गयी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

शिक्षकों ने लगा संस्था के अधिकारी पर ठगी का आरोप

कलई खुलने से बाद से अधिकारी है भूमिगत ​पीड़ितों ने किया कई जगहों पर विक्षोभ-प्रदर्शन बारासात : गरीब बच्चों के लिए एक संस्था खोलकर उनकी पढ़ाई के आगे पढ़ें »

हावड़ा में 9 नये चेहरे, क्रिकेटर मनाेज तिवारी को शिवपुर से ​मिला टिकट

80 से पार विधायकों को नहीं मिली उम्मीदवारी नये चेहरों पर है यकीन : मुख्यमंत्री हावड़ा : आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए शुक्रवार को मुख्यमंत्री व आगे पढ़ें »

ऊपर