कर्ज के जाल में फंसे व्यक्ति ने नाबालिग बेटी को रेड लाइट इलाके में दिया बेच

पंचायत की तत्परता से नाबालिग को किया गया बरामद
महिषादल : पूर्व मिदनापुर जिला अंतर्गत महिषादल थाना क्षेत्र के गोपालपुर गांव में रहने वाले एक व्यक्ति पर अपनी नाबालिग बेटी को बेच देने का आरोप खुद उसके ही परिजनों ने लगाया है। मामला उजागर होने के बाद गिरफ्तारी से बचने के लिए अभियुक्त फरार हो गया है। फरार अभियुक्त का नाम शुकदेव चक्रवर्ती है। आरोप है कि अभियुक्त ने रंगीबसान के यौनपल्ली में रहने वाली एक महिला के हाथों अपनी उस नाबालिग बेटी को एक अगस्त को बेच दिया था। परिजनों की गुहार के बाद स्थानीय पंचायत की तत्परता से 3 दिनों बाद ही उस नाबालिग को रेड लाइट इलाके से बरामद कर लिया गया। अभियुक्त की पत्नी मौसमी चक्रवर्ती का आरोप है कि उसके पति को नशे की आदत है। नशे के लिए उसने कई लोगों से कर्ज भी ले रखा है। किसी बड़े घर में रख कर बेहतर शिक्षा दिलाने और पालन पोषण कराने की बात कहकर उसका पति एक अगस्त को नाबालिग बेटी को अपने साथ ले गया था, लेकिन बाद में उनलोगों को जानकारी मिली कि उसने अपनी बेटी को यौनपल्ली में बेच दिया है। जिसके बाद नाबालिग की मां ने अपनी बेटी को बचाने के लिए स्थानीय पंचायत से गुहार लगाई। पंचायत की तत्परता से 3 दिनों बाद ही बुधवार को उस नाबालिग को यौनपल्ली से बचा लिया गया। स्थानीय पंचायत सदस्य सुखेंदु दास ने कहा कि एक व्यक्ति द्वारा अपनी ही नाबालिग बेटी को यौनपल्ली में बेच दिए जाने की बात का पता चलते ही उनलोगों ने वहां जाकर उसे छुड़ा लिया है। इधर इस घटना को लेकर परिजनों की ओर से थाने में अभियुक्त के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गयी है। स्थानीय बीडीओ योगेश चंद्र ने कहा कि अभियुक्त की गिरफ्तारी के लिए पुलिस कोशिश कर रही है। उसकी नाबालिग बेटी को किसी होम में रखने का इंतजाम प्रशासन की ओर से किया जा रहा है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

किचन में रखी जानें वाली ये चीजें 24 घंटे में हो जाती हैं खराब, इन्हें खाया तो…

कोलकाताः रोजमर्रा की जिंदगी में हम इतने व्यस्त होते हैं कि छोटी-छोटी गलतियों पर ध्यान नहीं दे पाते हैं। ये गलतियां अगर लगातार होती रहे, आगे पढ़ें »

ऊपर