बागडोगरा एअरपोर्ट पर यात्रियों की संख्या हुई कम, 22 उड़ानें रद्द

यात्रियों की संख्या में गिरावट के कारण यहां 33 के स्‍थान पर महज 11 उड़ानें संचालित
शनिवार को यहां से 581 या‌त्रियों ने प्रस्‍थान किये तो 824 यात्री यहां आये
कभी इस एअरपोर्ट पर अमूमन 5-6 हजार यात्रियों की आवाजाही होती थी वहीं पर्यटन सीजन में यहां यह संख्या 9-11 हजार के बीच रहती थी
बागडोगराः बागडोगरा एअरपोर्ट से यात्रियों की संख्या में बेतहाशा गिरावट आयी है। यहां से कुल यात्रियों की संख्या जहां कभी 5-6 हजार प्रतिदिन की रहती थी वहीं शनिवार को यह 10 फीसदी पर सिमट कर रह गयी। वहीं इस एअरपोर्ट से संचालित होने वाली उड़ानों की संख्या भी 33 से गिर कर महज 11 रह गयी। वहीं 22 उड़ानों को इस रूट पर यात्रियों के नहीं मिलने के कारण आपरेटरों की ओर से रद्द कर दिया गया। यह हालात आंशिक लॉकडाउन की है वहीं रविवार से पूरे राज्य में शुरू हो रहे पूर्ण लॉकडाउन में इस संख्या में और गिरावट की आशंका है।
बागडोगरा एअरपोर्ट के निदेशक पी सुब्रह्मणि ने बताया कि कोरोना के बढ़ते प्रकोप के कारण एअरपोर्ट पर एक ओर जहां विभिन्न रूटों से आने और यहां से जाने वाले यात्रियों की संख्या में गिरावट आयी है वहीं तेजी से घटती यात्रियों की संख्या को देखते हुए फ्लाइट आपरेटरों ने उड़ानों की संख्या में भी कमी कर दी।
उन्होंने बताया कि अमूमन बागडोगरा से कोलकाता, दिल्ली, चेन्नई, मुंबई, हैदराबाद, गुवाहाटी के साथ-साथ भूटान के थिम्फू की उड़ानें भी संचालित होती थी। उन्होंने बताया कि बागडोगरा से ग्रीष्मकालीन शेड्यूल्ड के तहत विभिन्न रूटों पर 33 उड़ानों के संचालन किये जाते थे।
वहीं कोरोना के आंशिक लॉकडाउन के दौरान ही बागडोगरा एअरपोर्ट से यात्रियों की संख्या में कमी आने लगी थी और शनिवार को यहां से विभिन्न रूटों पर महज 11 फ्लाइटों के संचालन किये गये। वहीं बागडोगरा से विभिन्न रूटों पर प्रस्‍थान करने वाले यात्रियों की संख्या 581 रही वहीं 824 यात्री देश के विभिन्न हिस्सों से यहां आये।
बताया जाता है कि एअरपोर्ट पर आने और जाने वाले या‌त्रियों को कोविड प्रोटोकॉल के तहत विभिन्न नियमों के पालन की बाध्यता के कारण भी यात्रियों की संख्या में गिरावट आयी है। वहीं सिक्किम में भी पर्यटकों के प्रवेश के लिए कड़े नियमों को लागू किये जाने के साथ साथ दार्जिलिंग और अन्य पहाड़ी हिस्सों में कोरोना को लेकर जारी खौफ के कारण सेवाओं को बंद रखे जाने से इस क्षेत्र में बाहर से पर्यटकों का आना भी बंद हो गया है। इसके कारण फ्लाइटों की बुकिंग नहीं हो रही है। यहां फिलहाल वही लोग यात्रा कर रहे हैं जिनके घर यहां हैं या बहुत आपात हालात में जिन्हें बाहर जाना पड़ रहा है।
बागडोगरा एअरपोर्ट के निदेशक पी सुब्रह्मणि ने बताया कि कोरोना के वर्तमान हालात में सुधार होते ही यहां से सभी उड़ानें पूर्ववत हो जायेगी और यात्रियों की संख्या भी बढ़ेगी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

5000 हेल्थ अस्टिटेंट को दी जाएगी मरीजों की देखभाल की ट्रेनिंग : केजरीवाल

नई दिल्ली : राज्यों ने जानलेवा कोरोना वायरस की संभावित तीसरी लहर से निपटने की तैयारी शुरू कर दी है। इसी क्रम में दिल्ली सरकार भी आगे पढ़ें »

पशुपति पारस के घर पर प्रदर्शन, रद्द हुई चिराग की प्रेस कॉन्फ्रेंस

पटना : बिहार की राजनीति में एकाएक हलचल बढ़ने लगी है। लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) में टूट हो गई है और अब वर्चस्व की लड़ाई आगे पढ़ें »

ऊपर