बुखार-सर्दी की शिकायत लेकर रानाघाट अस्पताल में 70 बच्चे हुए भर्ती

नदियाः सांस लेने में तकलीफ, बुखार, सर्दी की शिकायत लेकर रानाघाट महकमा अस्पताल में 70 बच्चे भर्ती हुए हैं। बुखार के अतिरिक्त कुछ को डायरिया तो कुछ को डिहाइड्रेशन की शिकायत है। इंडोर के अलावा आउट डोर में उल्लेखनीय संख्या में बीमार बच्चों को लेकर उनके अभिभावक इलाज कराने रोजाना आ रहे हैं। उनमें से गंभीर हालत वालों को भर्ती किया जा रहा है एवं अन्य बच्चों को दवा देकर घर पर ही रहने की सलाह दी जा रही है। बीमार बच्चों से चिल्ड्रेन वार्ड भरा पड़ा है। वार्ड के बरामदे में भी अतरिक्त बेड लगाकर बच्चों को रखा गया है। वार्ड के डाॅक्टर शांतनु दास ने बताया कि गत एक सप्ताह से चाइल्ड पेसेंट की संख्या में तेजी से इजाफा हुआ है। 70-80 बच्चे रोजाना इलाज के लिए आ रहे हैं। अभिभावकों को सलाह है कि बुखार होने पर अपने से घर में इलाज करने के बदले बच्चों को लेकर तुरंत अस्पताल पहुंचे क्योंकि इन दिनों वायरल बुखार के अलावा कोरोना, डेंगू, स्क्रब टाइफ़स की बीमारी फैल रही है। भर्ती कुछ बच्चों में स्क्रब टाइफस के लक्षण हैं। अपने 3 साल के बच्चे को अस्पताल में भर्ती कराने वाली पायराडांगा की निवासी चम्पा दास ने बताया कि उनके बच्चे को सर्दी बुखार हुआ था। दो दिन के इलाज से बुखार उतर गया है। अस्पताल के इलाज व्यवस्था से वह संतुष्ट हैं। उधर, अस्पताल सुपर ने कहा कि प्रति वर्ष बारिश के दिनों में बच्चों में बुखार की शिकायत अधिक देखी जाती है। इस साल भी वही स्थिति है। 1 से 8 साल के बच्चे भर्ती हुए हैं। अधिकांश मामला सिजनल बुखार का है। अस्पताल में मलेरिया, डेंगू इत्यादि की ​चिकित्सा की भी पूरी व्यवस्था है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

त्रिपुरा में नगर निकाय चुनाव लड़ेगी तृणमूल

12 दिवसीय ‘त्रिपुरा के लिए तृणमूल’ कार्यक्रम सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : तृणमूल सांसद सुस्मिता देव ने गुरुवार को कहा कि तृणमूल कांग्रेस त्रिपुरा में आने वाले नगर आगे पढ़ें »

ऊपर